गुजरात से इरफ़ान सफीर की रिपोर्ट 

अहमदाबाद- गुजरात दंगे भारत के इतिहास पर लिखा वो काला अध्याय है जिसे बदला नही जा सकता है, विकासशील देशों की सूची में शामिल भारत की नज़र जहाँ विकसित बनने की है वहीँ सांप्रदायिक शक्तियों के कारण लगातार पीछे की तरफ घसीटा जा रहा है.

guj2 copy

guj1 copy

गुजरात दंगों की टीस जहाँ एक तरफ मुस्लिम समुदाय में अन्दर तक चुभी हुई है वहीँ समाज में अभी तक उस खाई को नही भर पाया है.

guj 3 copy

हालाँकि गुजरात चुनाव में अभी एक महिना बाकी है लेकिन सभी जातियों के साथ साथ मुस्लिम समुदाय इस बार खास दिलचस्पी दिखा रहा है.

अभी अभी गुजरात के सूत्रों से खबर मिली है की अहमदाबाद के पलडी में कुछ मुस्लिम सोसाइटी में लाल रंग से क्रॉस का निशान लगाया गया है, हालाँकि यह निशान किसने और क्यों लगाया है इसका अभी तक कुछ पता नही चल पाया है.

guj4 copy

सूत्रों ने मिली जानकारी के मुताबिक अहमदाबाद के अमन कॉलोनी, कार्नर फ्लैट्स, टैगोर फ्लैट्स, अल अमन फ्लैट्स, फैज़-ए-मोहम्मदी सोसाइटी पर लाल रंग से बड़ा क्रॉस का निशान लगाया गया है, जब सुबह उठकर मुस्लिम समुदाय के लोगो ने इसे देखा तो लोगो के चेहरे पर चिंता साफ़ दिखाई दी. गौरतलब है की गुजरात दंगो के समय भी मुसलमानों के घरों पर लाल निशान लगाने की बात सामने आई थी.

समाज के ज़िम्मेदार नागरिकों ने तुरंत इसकी सूचना पुलिस और इलेक्शन कमीशन को दी, अपनी एप्लीकेशन में स्थनीय नागरिकों ने लिखा की “हमारी कॉलोनी ‘डिलाइट फ्लैट्स’ के मेन गेट पर हमने लाल रंग का निशान लगा देखा, सायं होने तक लगभग लगभग नजदीकी बिल्डिंग से भी सूचना आने की की उनकी दरवाजों पर भी इसी तरह का लाल निशान लगाया गया है, जिन जिन कॉलोनियों में यह लाल निशान देखा गया है उनमे अमन कॉलोनी, नशेमन अपार्टमेंट, टैगोर फ्लैट्स, आशियाना अपार्टमेंट आदि है.

यह कॉलोनियां नारायण नगर रोड पर शांतिवन तथा नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ डिजाईन के बीच में स्थित हैं. मुस्लिम समुदाय यह निशान देखने के बाद से डर के माहौल में आ गया है.

guj5 copy

application
स्थनीय नागरिकों द्वारा तुरंत पुलिस तथा चुनाव आयोग को अवगत कराये गये एप्लीकेशन की प्रति

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE