योगगुरु बाबा रामदेव के पतंजलि के लिए महाराष्ट्र सरकार ने 547 एकड़ जमीन दी है। पतंजलि महाराष्ट्र में चार जगहों पर अपनी फूड प्रोसेसिंग यूनिट लगाएगा। विपक्षी पार्टी कांग्रेस का कहना है कि रामदेव को सरकार पूंजीपति बनाना चाहती है। इसके लिए जमीन की लूट मच रही है।

ये यूनिट मिहान, अमरावती, कटोल और गढ़चिरौली में स्थापित की जाएंगी। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा, ‘महाराष्ट्र सरकार ने फूड प्रोसेसिंग यूनिट के लिए मिहान में 327 एकड़ जमीन देने का फैसला किया है। इस यूनिट से 10 हजार स्थानीय लोगों को रोजगार मिलेगा।’

और पढ़े -   अब मालेगांव में गौ-आतंकियों ने दो मुस्लिमों को बुरी तरह से पिटा, वीडियो हुआ वायरल

बता दें कि इस जमीन का 108 एकड़ का हिस्सा स्पेशल इकॉनोमिक जोन में आता है। गडकरी ने संकेत दिए कि गढ़चिरौली में औषधीय जड़ी बूटियों की इकाई स्थापित की जाएगी। 300 जड़ी बूटियों में से 200 को गढ़चिरौली और चंद्रापुर जिलों में उगाया जाएगा। इतना ही नहीं पतंजलि जड़ी बूटी उगाने के लिए आदिवासियों को प्रशिक्षित करेंगे। (News24)


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE