बि‍जनौर। हरियाणा में ओबीसी कोटे में आरक्षण को लेकर अभी ठीक से आग बुझा भी नहीं था कि, अब पश्चिमी उत्तर प्रदेश में एक और आग भड़कने की खबर आ रही है। जी हां, अब हरियाणा के जाटों के बाद वेस्ट यूपी के राजपुतों ने भी ओबीसी के तहत आरक्षण की मांग शुरु कर दी है।

aaa

बीते रविवार को रावा राजपूत सेवा समिति के मेंबर्स ने इसके लिए आवाज उठाई। बिजनौर और मुजफ्फरनगर के राजपूतों का कहना है कि अगर उनकी मांगे पूरी नहीं हुई तो वो पूरे शहर में आंदोलन करेंगे। रावा राजपूत समिति के सदस्य देवेंद्र कुमार का कहना है कि यूपी में राजपूतों की लगभग 7% पापुलेशन है। इनका कई हिस्सा अत्याधिक पिछड़ा हुआ है। उन्होंने कहा, सरकार को चाहिए कि वो राजपूतों को मेनस्ट्रीम सोसाइटी के साथ जोड़े।

और पढ़े -   सिमी सदस्यों के एनकाउंटर में मिली सभी पुलिस अधिकारियों को क्लीन चीट

देवेंद्र कुमार ने चेतावनी के लहजे में कहा, अगर सरकार उनकी मांगे पूरी नहीं करती है तो, हम कोटे में रिजर्वेशन के लिए प्रदेश में बड़ा प्रोटेस्ट आर्गेनाइज करेंगे। हालांकि, सड़कों पर जाने से पहले कम्युनिटी का एक डेलिगेशन सीएम अखिलेश यादव से मुलाकात करेगा।

वहीं मीडिया रिपोर्ट्स के आधार पर डीएम ने कहा, यह काफी सेंसिटिव इश्यू है। एक्शन लेने से पहले हम मामले में कुछ डेवलपमेंट का इंतजार कर रहे हैं।

और पढ़े -   आखिरकार बलात्कार का आरोपी फलाहारी बाबा को पुलिस ने किया गिरफ्तार

गौरतलब है कि पिछले दिनों हरियाणा में जाट आरक्षण को लेकर जाट समुदाय सड़कों पर उतर आया था, जिसके बाद पूरे राज्य में आगजनी और लूटपाट जैसी कई घटनाएं हुई थीं। (indiavoice)


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE