बि‍जनौर। हरियाणा में ओबीसी कोटे में आरक्षण को लेकर अभी ठीक से आग बुझा भी नहीं था कि, अब पश्चिमी उत्तर प्रदेश में एक और आग भड़कने की खबर आ रही है। जी हां, अब हरियाणा के जाटों के बाद वेस्ट यूपी के राजपुतों ने भी ओबीसी के तहत आरक्षण की मांग शुरु कर दी है।

aaa

बीते रविवार को रावा राजपूत सेवा समिति के मेंबर्स ने इसके लिए आवाज उठाई। बिजनौर और मुजफ्फरनगर के राजपूतों का कहना है कि अगर उनकी मांगे पूरी नहीं हुई तो वो पूरे शहर में आंदोलन करेंगे। रावा राजपूत समिति के सदस्य देवेंद्र कुमार का कहना है कि यूपी में राजपूतों की लगभग 7% पापुलेशन है। इनका कई हिस्सा अत्याधिक पिछड़ा हुआ है। उन्होंने कहा, सरकार को चाहिए कि वो राजपूतों को मेनस्ट्रीम सोसाइटी के साथ जोड़े।

देवेंद्र कुमार ने चेतावनी के लहजे में कहा, अगर सरकार उनकी मांगे पूरी नहीं करती है तो, हम कोटे में रिजर्वेशन के लिए प्रदेश में बड़ा प्रोटेस्ट आर्गेनाइज करेंगे। हालांकि, सड़कों पर जाने से पहले कम्युनिटी का एक डेलिगेशन सीएम अखिलेश यादव से मुलाकात करेगा।

वहीं मीडिया रिपोर्ट्स के आधार पर डीएम ने कहा, यह काफी सेंसिटिव इश्यू है। एक्शन लेने से पहले हम मामले में कुछ डेवलपमेंट का इंतजार कर रहे हैं।

गौरतलब है कि पिछले दिनों हरियाणा में जाट आरक्षण को लेकर जाट समुदाय सड़कों पर उतर आया था, जिसके बाद पूरे राज्य में आगजनी और लूटपाट जैसी कई घटनाएं हुई थीं। (indiavoice)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें