पशु क्रूरता निवारण अधिनियम के ज़रिये बीफ बैन करने को लेकर केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह को मिजोरम में जमकर विरोध हुआ. राजनाथ सिंह की यात्रा के साथ हजारों लोगों ने एक बीफ पार्टी आयोजित की.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, ये बीफ पार्टी राजभवन से 200 मीटर की दूरी पर वनापा हॉल में आयोजित की गई. जिसमे 2,000 से अधिक लोग शामिल हुए. वहीँ कुछ ही दुरी पर राजनाथ सिंह भी भारत-म्यांमार सीमा पर सुरक्षा की समीक्षा के लिए एक उच्च स्तरीय बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे.

बीफ पार्टी के आयोजक ने कहा कि पहले बीफ खाने पर कोई आपत्ति नहीं थी. लेकिन अब हम देख रहे हैं कि हमें हमारे कुछ बुनियादी अधिकारों से वंचित करने की साजिश रची जा रही है. कोई क्या खाता है, यह तय करने का अधिकार उस व्यक्ति का है. इसे थोपा नहीं जाना चाहिए.

रमरुआता वर्ते ने कहा कि मिजोरम में विभिन्न धर्मो के लोग शांति से रह रहे हैं, जिनमें ईसाई बहुसंख्यक हैं. यहां किसी पर ऐसा कोई पाबंदी नहीं है कि वह अपने धर्म का पालन नहीं कर सकता.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE