बलात्कार

बीकानेर के एक निजी कॉलेज में 17 साल की एक दलित छात्रा के साथ कथित दुष्कर्म के बाद उसकी हत्या के मामले में सीबीआई जांच की मांग हो रही है. पीपुल्स यूनियन ऑफ़ सिविल लिबर्टीज सहित अन्य मानवाधिकार और महिला अधिकार संगठनों ने एकजुट होकर कॉलेज प्रबंधक की गिरफ़्तारी की मांग की है.

बीकानेर पुलिस अधीक्षक अमनदीप सिंह कपूर ने बीबीसी को बताया कि मुख्य अभियुक्त विजेंद्र सिंह को तुरंत गिरफ्तार कर लिया गया था. हॉस्टल की वार्डन प्रिया शुक्ला को भी सोमवार को गिरफ़्तार कर लिया गया. उनके पति जो उसी परिसर में मौजूद एक स्कूल में प्रिंसिपल हैं, वो भी जांच के घेरे में हैं.

उनके ख़िलाफ़ पुलिस को सूचना नहीं देने और पीड़िता से माफ़ीनामा लिखवाने के आरोप हैं. इस दलित छात्रा के पिता महिंद्रा राम एक शिक्षक है. उनका कहना था कि उनकी बेटी तीन महीने में शिक्षक बनने वाली थी, पर उसके ख्वाबों का दुखद अंत हुआ है.

उन्होंने बीबीसी को फ़ोन पर बताया, ”बीएसटीसी (शिक्षक प्रशिक्षण) के लिए उसका दाखिला जैसलमेर में भी हो गया था पर वहां थोड़ी सुविधाएँ कम थीं, इसलिए उसे बीकानेर पढ़ने भेजा.”

उनका कहना था, “वो अपने तीन बहन-भाइयों से दूर जाने के ख्याल से ही रोने लगी थी लेकिन हमने उसे समझाया था कि लक्ष्य पाने के लिए दूरी कैसी? अच्छी सुविधाओं की आस में उसे घर से 600 किलोमीटर दूर पढ़ने भेजा था.” कॉलेज प्रबंधक ईश्वर चंद बैद की घटना में भूमिका के बारे में पड़ताल हो रही है. (BBC)


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment

Related Posts

loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें
SHARE