अजमेर के निकट नसीराबाद सदर थाना क्षेत्र के राजगढ़ गांव के समीप सरदारपुरा में सिख समाज के लोगो के साथ हुई मारपीट के मामले तीन लोगो को गिरफ्तार किया गया है. इनमे सरपंच रामदेव रावत, श्रवण सिंह और राजू नाम के व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है.

दरअसल, 24 अप्रैल को अलवर के हरपाल सहित सिख समाज के कुछ लोग गांव में गुरूद्वारे के लिए अनाज संग्रह करने के लिए गए थे. लेकिन सरपंच रामदेव रावत ने सिख समाज के लोगो के खिलाफ जादू करने का आरोप लगाते हुए मारपीट की थी.

और पढ़े -   AMU के बाब-ए-सैयद पर वंदे मातरम् के साथ दक्षिणपंथियों ने की गोलीबारी

इस मारपीट का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया था, वहीँ राजस्थान पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार करने के बजाय सिख समाज के चार लोगो के खिलाफ शांति भंग का मुकदमा दर्ज कर उन्हें जेल में डाल दिया था.

वीडियो सामने आने के बाद  राज्य अल्पसंख्यक आयोग से मामले में संज्ञान लिया था. इस पर पुलिस ने वापस पीडितो से संपर्क किया और आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया. इस मामले में कोताही बरतने वाले पुलिस कर्मियो के खिलाफ विभागीय जांच के आदेश दिए गए है. साथ ही राजगढ़ पुलिस चौकी पर तैनात कांस्टेबल बुधराम को लाइन हाजिर किया गया है.

और पढ़े -   बिहार: 700 करोड़ के सृजन घोटाला में आया बीजेपी नेता विपिन शर्मा का नाम

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE