राजस्थान के मेवाड़ विश्वविद्यालय में पड़ने वाले कश्मीरी छात्रों के साथ भगवा संगठनों के कार्यकर्ताओं ने आतंकवादी बताकर बुरी तरह से मारपीट की हैं. जिसके चलते कश्मीरी छात्र धरने पर बैठ गए हैं. छात्रों ने प्रशासन से सुरक्षा सुनिश्चित करने की मांग की.

गंगरार थानाधिकारी दिनेश कुमार ने बताया कि निजी मेवाड़ विश्वविद्यालय में पढ़ने वाले ये छात्र घरेलू सामान खरीदने गये थे. इसी दौरान अज्ञात लोगों ने उनके नाम और पते पूछने के बाद मारपीट की. घटना के बाद वह लोग दुपहिया वाहनों पर बैठकर भाग गये.

घायल विद्यार्थी अहमद गिरी ने बताया, “बुधवार की शाम 6.0 बजे गंगरार कस्बे के नजदीक कम से कम नौ कश्मीरी विद्यार्थियों की लाठी और बैट से पिटाई की गई. स्थानीय लोगों को जब पता चला कि हम कश्मीरी हैं तो उन्होंने हमें निशाना बनाया. कम से कम छह विद्यार्थी हमले में घायल हुए हैं.”

उन्होंने बताया ‘ हमें बिना किसी वजह के पीटा गया, हमें गालियां बकी गईं, हमें आतंकवादी कहा गया, लोगों ने कहा कि हमें ही वो लोग हैं जो सेना पर पत्थर फेंकते हैं. उन्होंने हमें कश्मीर लौट जाने की धमकी दी और यहां तक कहा कि वो हमें यहां पढ़ने नहीं देंगे.

कश्मीरी विद्यार्थी ने बताया कि बुधवार को विश्वविद्यालय में करीब 250 कश्मीरी विद्यार्थियों ने विरोध प्रदर्शन किया और कइयों ने विरोधस्वरूप रात का खाना भी नहीं खाया. छात्रों की शिकायत के आधार पर पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 323 और 341 के तहत मामला दर्ज कर लिया हैं.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE