jai

जयपुर: शुक्रवार को विधानसभा में सरकारी हिंगोनिया गौशाला में सैकड़ों गायों की मौत को लेकर जमकर हंगामा हुआ. जिसके चलते सुरक्षाकर्मियों ने विपक्षी सदस्यों को उठाकर सदन से बाहर निकाला.

हंगामा उस समय शुरू हुआ जब गले में तख्तियां लगाये प्रतिपक्षी कांग्रेस, राजपा, बसपा और निर्दलीय सदस्यों ने सरकारी हिंगोनिया गौशाला में सैंकड़ों गायों की मौत पर मुख्यमंत्री के बयान की मांग करते हुए वैल में आकर सरकार के खिलाफ नारेबाजी की.

और पढ़े -   जम्मू-कश्मीर के बाद अब कर्नाटक का भी होगा खुद का अलग झंडा और सिंबल

हालांकि पूरे हंगामे के दौरान मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे मौजूद नहीं थी. आखिर में विधानसभा अध्यक्ष कैलाश मेघवाल ने कहना पड़ा कि ‘सदन में गुंडागर्दी नहीं होने दूंगा’ और सब को बाहर निकालने का आदेश दिया. इस दौरान नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी, अन्य प्रतिपक्षी सदस्यों और सुरक्षाकर्मियों के बीच हाथापाई भी हुई.

करीब दस मिनट के हंगामे के बाद अध्यक्ष कैलाश मेघवाल ने उनके आसन के ठीक सामने आकर हंगामा कर रहे प्रतिपक्ष के दो सदस्यों को बाहर निकालने का आदेश दिया. इसपर प्रतिपक्ष सदस्यों की मार्शल और सुरक्षा कर्मियों से हाथापाई हो गई.

और पढ़े -   शिवराज के तेरह सालों के शासन में 15 हजार किसानों ने की आत्महत्या

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE