op-meena

राजस्थान के मुख्य सचिव ओमप्रकाश मीणा पर उनकी ही बेटी ने शारीरिक शोषण का आरोप लगाया हैं. राजस्थान हाईकोर्ट को भेंजे एक ई-मेल में उसने अपने पिता पर उसे प्रताड़ित करने और शारीरिक शोषण करने का आरोप लगाते हुए कहा कि जब वो 12 साल की थी तो उनके पिता ओमप्रकाश मीणा ने उनके साथ शारीरिक शोषण की कोशिश की थी.

नवभारत टाइम्स के अनुसार, उसने कहा कि, ‘मेरे पिता ने हमेशा मुझे बोझ समझा और वह मेरे साथ दुर्व्यवहार करते थे. मुझ पर खर्च होने वाले एक-एक रुपए के लिए वह मुझे शारीरिक रूप से प्रताड़ित करते थे। मेरे पिता न सिर्फ मेरे साथ अभद्र भाषा का प्रयोग करते थे बल्कि कई बार उन्होंने मेरे साथ मारपीट भी की. मुझे यह कहते हुए बहुत शर्म आ रही है कि जब मैं 13 साल की थी तब उन्होंने मेरा शारीरिक शोषण भी किया था.’

गीतांजलि के अनुसार, ‘वह जबरन मेरे कमरे में आ जाते थे और उन्होंने कई बार गलत जगहों पर मुझे छुआ था. मेरे पिता मेरे स्कर्ट और शर्ट के अंदर हाथ डालते थे. वह मुझे होंठ पर किस करते थे कई बार उन्होंने मेरे सीने को भी जबरदस्ती दबाया। इस वजह से मैं बहुत परेशान रहती थी और मुझे समझ नहीं आता था कि मैं किससे अपना दुख कहूं. मेरे साथ यह सिलसिला दो साल तक चलता रहा और उस दौरान मैं रात-रात भर रोती थी.’

गौरतलब रहें कि 30 जून को ही राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने ओमप्रकाश मीणा को सूबे का मुख्य सचिव नियुक्त किया था.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें