vasundhara

हाल ही में बिहार में भारतीय जनता पार्टी पर नोटबंदी से पहले जमीन खरीदने का आरोप लगा हैं. विपक्ष का आरोप हैं कि बीजेपी ने काला धन को सफ़ेद करने के लिए अपना पैसा जमींन में लगा दिया हैं. इसी बीच राजस्थान में भी नोटबंदी से पहले करोड़ों रुपए की जमीन खरीद ने के आरोप लगे हैं.

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने निर्देश पर पार्टी ने संभाग मुख्यालयों व जिलों में पार्टी कार्यालयों के लिए जमीन खरीदी हैं. इसी के चलते कोटा में भी कार्यालय के नाम पर करोड़ों रुपए की जमीन खरीदी गई. कोटा में नगर विकास न्यास ने पार्टी कार्यालय के लिए चार माह पहले अस्सी फीट रोड पर रोडवेज बस टर्मिनल के पास तीन हजार वर्ग मीटर जमीन करीब दो करोड़ रुपए में आवंटित की थी.

पार्टी पदाधिकारियों का कहना है कि जमीन खरीदने की रकम पार्टी के राष्ट्रीय कार्यालय से आई थी. इस राशि का डीडी अगस्त में न्यास में जमा करवाया गया था. हालांकि नोटबंदी के कारण फिलहाल रजिस्ट्री नहीं हो पाई है. पार्टी कार्यालय के लिए इस जमीन पर दो मंजिला भवन बनाया जाना प्रस्तावित है

कांग्रेस के पूर्व शहर महामंत्री हुकुम जैन काका ने आरोप लगाया कि प्रदेशभर में भाजपा कार्यालयों के नाम पर नोटबंदी से पहले आनन-फानन में जमीन खरीदी गई है, इसकी जांच होनी चाहिए.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment

Related Posts

loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें
SHARE