सीकर।लक्ष्मणगढ़ विधायक गोविंदसिंह डोटासरा ने विधानसभा में सवाल उठाया कि जल स्वावलंबन योजना के नाम पर सरकार नौटंकी कर रही है। नीमकाथाना में आधी तगारी मिट्टी उठाने के लिए सीएम के कार्यक्रम पर जनता की गाढ़ी कमाई से 13 लाख रुपए खर्च कर दिए। यह सब भाजपा सरकार ने किया।
 उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री की यात्रा के बाद भास्कर ने सरकारी पैसे के दुरुपयोग के मामले का खुलासा किया था। डोटासरा ने कहा, विधानसभा क्षेत्र में 832 करोड़ रुपए की पेयजल योजना मंजूर हुई थी। कांग्रेस शासन में 40 फीसदी काम हुआ। इसके बाद भाजपा राज में दो साल के दौरान महज दो फीसदी काम हो पाया है। सड़क बनाए बिना ही टोल लगा दिया। लक्ष्मणगढ़ में स्वीकृत की गई आईटीआई दो साल से झूल रही है।
डोटासरा ने चिकित्सा मंत्री राजेंद्र राठौड़ से सवाल किया कि यूपीए सरकार ने सात मेडिकल कॉलेज मंजूर किए थे। लेकिन आप मुख्यमंत्री से अच्छे संपर्क का फायदा उठाते हुए सीकर की कॉलेज को आप चूरू ले गए। 2015 में चूरू का आउटडोर 3,93,000 व सीकर का आउटडोर 4,81,000 था।
विधायक जलधारी ने मिनी सचिवालय की मांग उठाई
विधायक रतनलाल जलधारी ने सीकर में मिनी सचिवालय का निर्माण करवाने की मांग उठाई। उन्होंने कहा कलेक्ट्रेट, एसपी सहित अन्य कार्यालय एक ही जगह शहर के बीच होने से आए दिन प्रदर्शन के दौरान जाम लगा रहता है। प्रशासन ने सांवली रोड पर 15 हैक्टेयर भूमि पर मिनी सचिवालय, ऑडिटोरियम व 132 केवी जीएसएस, यूआईटी कार्यालय के लिए प्रस्ताव सरकार को भिजवा दिया। लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई।
महरिया ने सदन में उठाई फतेहपुर की समस्याएं
विधायक नंदकिशोर महरिया ने फतेहपुर के कई मुद्दे उठाए। महरिया ने फतेहपुर में एडीजे कोर्ट खोलने, छतरिया बस स्टैण्ड की पानी निकासी के संबंध में योजना बनाने,फतेहपुर में सरकारी कॅालेज खोलने,पर्यटन के लिए बावड़ी व हवेलियों को संरक्षित करने के लिए योजना बनाकर इनका विकास करने तथा आवारा पशुओं का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा फतेहपुर से निकल रही एनएच 65 व एनएच 11 का काम रुका हुआ है। गौरव पथ बनाए गए। लेकिन पानी निकासी की कोई व्यवस्था नहीं है। (दैनिक भास्कर)

लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें