जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल प्रोफेसर तारिक मंसूर के अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के कुलपति के रूप में चुन लिया गया है. जल्द ही वे कुलपति का पद संभालेंगे.

पद सँभालने से पहले प्रो. तारिक मंसूर ने साफ कर दिया है कि वे चमक-दमक से दूर रहेंगे. उनका मकसद यूनिवर्सिटी के लिए काम करना है. उन्होंने कार्यभार संभालने के लिए बग्घी से जाने के लिए राइडिंग क्लब के कप्तान के प्रस्ताव को ठुकरा दिया.

और पढ़े -   रेल हादसा: नमाज छोड़ मुस्लिमों ने घायलों की जान बचाई, हिंदू संतों ने कहा - नहीं आते तो आज जिंदा नहीं बचते

प्रो. मंसूर 16 मई को कुलपति के रूप में कार्यभार ग्रहण करेंगे. प्रो. तारिक मंसूर जवाहर लाल नेहरू मेडीकल काॅलेज के सर्जरी विभाग में प्रोफेसर होने के साथ साथ सितम्बर 2013 से काॅलेज के प्रिंसिपल तथा चीफ मेडीकल सुप्रिंटेंडेंट के पद पर कार्यरत हैं.

प्रो. मंसूर 2005 से 2008 तक सर्जरी विभाग के अध्यक्ष भी रहे तथा अमुवि की एक्जीक्यूटिव काउंसिल के दो कार्यकाल में सदस्य भी रह चुके हैं. प्रो. मंसूर ने यूनीवर्सिटी गैम्स कमेटी के सचिव के रूप में विश्वविद्यालय की खेल क्रीड़ा को नई बुलन्दियों तक पहुंचाया है.

और पढ़े -   योगी सरकार का मदरसों को नया आदेश - छात्रों और अध्यापकों का कराना होगा ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE