कानपुर  विश्व हिंदू परिषद के अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष प्रवीण भाई तोगड़िया ने फतेहपुर के ‘जहानाबाद में भड़की हिंसा को प्रशासन की बड़ी चूक करार दिया है. उन्होंने यूपी सरकार और जिला प्रशासन को इस घटना के लिए जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि सूबे में कानून व्यवस्था नाम की कोई चीज नहीं है.

फतेहपुर हिंसा प्रशासन की बड़ी चूक: प्रवीण तोगड़िया

हालांकि तोगड़िया ने जहानाबाद कस्बे में विश्व हिंदू परिषद के कार्यक्रम के दौरान हुए जबरदस्त हंगामे पर और कुछ भी बोलने से इंकार कर दिया.

सांप्रदायिक हिंसा के बाद धारा 144 लागू: गौरतलब है की मकर संक्रांति से ठीक एक दिन पहले यूपी के फतेहपुर के जहानाबाद कस्बे में विश्व हिंदू परिषद के कार्यक्रम के दौरान दो गुटों के बीच जमकर हंगामा हुआ. यहां हुए फायरिंग और पथराव में दो लोग जख्मी हो गए हैं. एक समुदाय विशेष की कई दुकानों में तोड़फोड़ के बाद आग के हवाले कर दिया गया. पुलिस और पीएसी ने लाठी चार्ज करके उपद्रवियों को खदेड़ दिया. फिलहाल फतेहपुर में धारा 144 लागू कर दी गई है.

जानकारी के मुताबिक, विहिप के अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया के समर्थन में जुलूस निकालने को लेकर दो सांप्रदायिक गुट आपस में भिड़ गए. जहानाबाद के दारागंज इलाके में विहिप के लोग जुलूस निकाल रहे थे. इस पर एक संप्रदाय के लोगों ने आपत्ति जताई. इसके बाद दोनों संप्रदाय के बीच मारपीट शुरू हो गई. तोगड़िया इस समय जहानाबाद दौरे पर हैं.

ईंट से नहीं भावनाओं से बनेगा राम मंदिर: तोगड़िया ने सूबे के मंत्री शिवपल यादव ,शिवपाल यादव के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि ईंट से नहीं भावनाओं से बनेगा राम मंदिर. उन्होंने शिवपाल यादव को अयोध्या जाने की सलाह भी दी और कहा कि 2017 चुनाव के पहले विहिप कोई भी प्रदर्शन नहीं करेगी.

राम मंदिर के लिए कोर्ट के फैसले का इन्तजार नहीं करेगा 100 करोड़ हिन्दू: विश्व हिंदू परिषद के अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष प्रवीण भाई तोगड़िया ने कहा कि अयोध्या में श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए देश का सौ करोड़ हिंदू सुप्रीम कोर्ट के फैसले का इंतजार नहीं करेगा, संसद में कानून बनवाकर भव्य मंदिर का निर्माण कराया जाएगा।

बुधवार को कानपूर पहुंचे तोगड़िया ने मीडिया से कहा कि राम मंदिर का निर्माण हिंदुओं के दिल से जुड़ा है. उन्होंने कहा कि विश्व हिंदू परिषद इस बात का इंतजार नहीं कर सकती कि सुप्रीम कोर्ट इसके लिए समय निकाले और फैसला सुनाये.

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार संसद में कानून बनवाकर मंदिर का निर्माण सुनिश्चित करे. हालांकि केंद्र सरकार के कामकाज के सवाल पर उन्होंने कहा कि मोदी सरकार से विहिप का लेना देना नहीं है. वह अपना काम करें, विश्व हिंदू परिषद अपना करेगी। साभार: news18


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें