पटना। रविन्द्र भवन में आयोजित संत रविदास जयंती समारोह के मौके पर एक बार फिर लालू प्रसाद-नीतीश कुमार एक मंच पर दिखे। इस अवसर पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा। नीतीश कुमार ने बीजेपी पर वार करते हुए कहा कि उसकी सियासत झूठ के चलती है। वह अफवाह के सहारे समाज को बांटना चाहती है।

उन्होंने कहा कि कोई लाख साजिश कर ले, लेकिन आरक्षण कभी खत्म होने वाला नहीं है। नीतीश ने हैदराबाद के छात्र रोहित वेमुला का भी मुद्दा उठाया। कहा कि संसद में मानव संसाधन विकास मंत्री स्मृति ईरानी द्वारा दिया गया बयान पूरी तरह बकवास है। वे झूठ बोल रही हैं।

बीजेपी पर नीतीश का वार

नीतीश ने कहा कि कुछ लोग वोट की खातिर समाज को बांटने की कोशिश कर रहे हैं। ऐसे तत्व अपने मकसद में कामयाब नहीं होंगे। लव जिहाद का मामला उठाया, उस समय यूपी में चुनाव था। घर वापसी का मुद्दा उठाया, उस समय दिल्ली में चुनाव था। गौमांस का मामला उठाया, उस समय बिहार में चुनाव था। पर, लोगों ने सबक सिखा दिया।

सीएम ने पीएम नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि लोकसभा चुनाव के समय कालाधन वापस लाने की बात हो रही थी। चुनाव होते ही सब भूल गये।

दलितों को बरगला रही है बीजेपी

कार्यक्रम में बोलते हुए नीतीश कुमार ने कहा कि बीजेपी दलितों को बरगला रही है। कभी दलितों के लिए काम नहीं करने वाली पार्टी आज खुद को दलित हितैषी करार दे रही है। यह सरासर झूठ है। बीजेपी दलितों को अपनी तरफ खींचने का सिर्फ नाटक करती है।

रविदास जयंती पर सरकारी छुट्टी

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने एलान किया कि अगले वर्ष से संत रविदास जयंती के मौके पर पूर्ण अवकाश रहेगा। साथ ही सीएम ने माघ पूर्णिमा के दिन भी सरकारी छुट्टी का एलान किया।

रामविलास पासवान का पलटवार

केन्द्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने नीतीश कुमार पर समाज को बांटने का आरोप लगाया और कहा कि मुख्यमंत्री ने तो खुद दलित-महादलित को अलग कर समाज को बांट दिया है और दूसरे को सीख दे रहे हैं। हम तो यही आशा करते हैं कि संत रविदास जयंती के मौके पर उन्हें सदबुद्धि आए। (jagran)


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment

Related Posts

loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें
SHARE