प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा अहमदबाद के दौरे पर आए जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे को बुधवार को विश्व प्रसिद्ध सैय्यद मस्जिद लेकर जाना हैरान करने वाला कदम है. इस को लेकर हिन्दू संगठन पहले ही आपत्ति जता चुके है.

ऐसे में अब सोशल मीडिया पर भी इस को लेकर घमासान मचा हुआ है. साथ ही मोदी और आबे  की मस्जिद विजिट के दौरान मंदिर को ढकने को लेकर बवाल मच गया है. दरअसल, आबे के पहुंचने से पहले अहमदाबाद में कई जगह सड़क किनारे को हरे कपड़ों से ढंक गया था. ऐसे में इन कपड़ों के पीछे एक मंद‍िर भी दब गया. जिसकी तस्वीर सोशल मीडिया पर भी वायरल हो रही है.

और पढ़े -   पीएम मोदी का वाराणसी दौरा, योगी सरकार का हर मदरसे को 25-25 महिलाओं को भेजने का आदेश

ध्यान रहे हिंदू महासभा ने पीएम मोदी के इस कदम को भारतीय संस्कृति के खिलाफ करार दिया है. महसभा ने कहा है कि भारत के हिंदू इसे कभी माफ नहीं करेंगे. पीएम मोदी के इस कदम से देशभर की हिंदुओं की भावनाएं आहत हुई हैं.

Ahead of Japan PM's visit Gujarat Govt hides slums in Ahmedabad by green cloth. CM Modi had claimed in 2012 it had created a record of proving housing to all people living below poverty line. Garvi Gujarat!

Posted by Unofficial: Subramanian Swamy on 13 চেপ্তেম্বৰ 2017

हिंदू महासभा के राष्ट्रीय महासचिव मुन्ना कुमार ने कहा, ‘शिंजो आबे को मस्जिद दौरे की जगह सोमनाथ मंदिर, द्वारका और ज्योतिर्लिंग के दर्शन करने चाहिए थे। भारत एक हिंदू राष्ट्र है. हिंदू राष्ट्र के रूप में ही भारत की पहचान है. भगवान शिव, राम और कृष्ण भारत की संस्कृति के प्रतीक हैं. इसलिए जापान के प्रधानमंत्री को गुजरात में स्थित हिंदू-देवी देवताओं के भव्य मंदिरों का दर्शन करना चाहिए था.

और पढ़े -   रोहिंग्या मुस्लिमों के समर्थन में लिखा, बीजेपी ने दिखाया मुस्लिम नेता को बाहर का रास्ता

Unofficial: Subramanian Swamy फेसबुक अकाउंट से इसकी कुछ तस्‍वीरें शेयर की गईं। साथ ही लिखा गया है, ‘जापानी पीएम के गुजरात दौरे से पहले अहमदाबाद में मलिन बस्तियों को हरे कपड़े से छिपा दिया गया. जबकि साल 2012 में गुजरात का सीएम रहते मोदी ने कहा था कि उन्होंने गुजरात में गरीबी रेखा से नीचे (बीपीएल) रहने वाले लोगों को मकान मुहैया कराकर रिकॉर्ड बनाया है.’

और पढ़े -   पूर्व केंद्रीय मंत्री मोहम्मद तस्लीमुद्दीन का हुआ देहांत

इस बारें में साल्वे ने लिख, ‘जापान को मस्जिद दिखाने के लिए मंदिर छिपा दिया गया.’ वहीँ हरे परदों को लेकर शाहिद इकबाल लिखते हैं, ‘पूरे गुजरात में पाकिस्तानी झंडा. यकीन नहीं होता.’


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE