burhan

जम्मू कश्मीर में  सत्ताधारी पार्टी पीपल्स डेमोक्रेटिक फ्रंट (PDP) के विधायक ने हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर बुरहान वानी को आतंकी मानने से इंकार करते हुए धर्मात्मा बताया है. महबूबा मुफ्ती के विधायक मुश्ताक अहमद ट्राल से विधायक हैं और यही पर हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर बुरहान का घर है.

इंडियन एक्सप्रेस से बात करते हुए अहमद ने कहा, ‘वह आतंकी नहीं था. लोग उसे इसलिए पंसद करते थे क्योंकि वह महान था और धर्मात्मा के चरित्र वाला था. हमारी पार्टी की उन लोगों से कोई दुश्मनी नहीं है जो बुहरान वानी की मौत पर दुखी हैं. बल्कि हम तो मानते हैं कि बुरहान की मौत से अलगाववादियों को एक नई ताकत मिल गई है.

और पढ़े -   योगी सरकार में कानून व्यवस्था की खुली पोल, बीजेपी विधायक ने दिया थाने के सामने धरना

उन्होंने आगे कहा, ‘कश्मीर का मुद्दा बुरहान की मौत से खत्म नहीं हुआ बल्कि यह और सुलग गया. अब हर राजनीतिक पार्टी, हर संस्था कश्मीर के मुद्दे को अपने ढंग से देख रही है.

इसके अलावा अहमद ने पुलिस पर भी अत्याचार का आरोप लगाते हुए कहा कि  पुलिस घाटी के लोगों को शांति से विरोध प्रदर्शन नहीं करने देती इस वजह से ही ऐसा माहौल बन जाता है.

और पढ़े -   जीएसटी पर मोदी की तारीफ करना पत्रकार को महंगा पड़ा, व्यापारियों ने जमकर पीटा

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE