post-feature-image

पिछले कई दिनों से पंजाब में शरारती तत्वों द्वारा साम्प्रदायिकता फैलाने की कोशिश की जा रही हैं. अल्पसंख्यक समुदाय पर हमलें से लेकर धार्मिक किताबों की बेअदबी करने जैसे हथकंडे अपनाएँ जा रहें हैं लेकिन आज इन लोगों के नापाक मंसूबों पर पानी फेरते हुए सर्वसमाज के लोगों ने फील्डगंज चौंक स्थित ऐतिहासिक जामा मस्जिद से अमन, शांति व भाईचारा बनाए रखने की अपील की.

और पढ़े -   उग्र जाट आंदोलन ने बढ़ाई वसुंधरा सरकार की मुसीबत, रेल पटरियों को उखाड़ा गया

इस अवसर पर शहर की विभिन्न धार्मिक व राजनीतिक पार्टीयों के प्रतिनिधियों ने शाही इमाम पंजाब मौलाना हबीब उर रहमान सानी लुधियानवी से मुलाकात कर जामा मस्जिद की ओर से आपसी भाईचारे को बनाए रखने में दिए जा रहे सहयोग की सराहना करते हुए आश्वासन दिलाया कि पंजाब के सभी हिन्दू, सिख, मुस्लिम, ईसाई व दलित भाईचारे के लोग किसी भी शरारती तत्व के बहकावे में आकर अमन, शांति व आपसी भाईचारा भंग नहीं होने देगें.

और पढ़े -   सपा में अब भी जारी है पारिवारिक कलह, अखिलेश के इफ्तार में शरीक नहीं हुए मुलायम

शाही इमाम ने कहा कि लुधियाना और पूरा पंजाब आपसी भाईचारे की जिंदा मिसाल है, जिसे टूटने नहीं दिया जाएगा। उन्होनें कहा कि हमें विश्वास है कि पुलिस व प्रशासन पूरी जिम्मेवारी के साथ अपना दायित्व निभाएगें.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE