पठानकोट एयरबेस पर आतंकी हमले के दौरान चार जनवरी को सुरक्षाबलों की ओर से की गई गोलीबारी के चलते खबरें आईं थी कि आतंकियों के साथ मुठभेड़ फिर से शुरु हो गई। इस मामले में सामने आया है कि थर्मल इमेजिंग डिवाइस में वायुसेना और एनएसजी के जवानों को एयरबेस के एक हिस्‍से में दो घुसपैठिए नजर आए थे जो कि बाद में सुअर निकले।

एक सूत्र ने बताया कि हैलीकॉप्‍टर में इमेजिंग डिवाइस पर नजर रख रहे एक सुरक्षाकर्मी ने बताया कि दो संदिग्‍ध आतंकी बेस के हैंगर की ओर बढ़ रहे हैं। इसके बाद उस ओर एक चेतावनी दी गई और जब इस पर कोई कार्रवाई नहीं हुई तो गोलियां चलाई गई। जब दोनों ने भागने का प्रयास किया तो उन पर गोलीबारी भी की गई। इस दौरान आधे घंटे तक फायरिंग हुई और वायुसेना ने लड़ाकू हैलीकॉप्‍टर को भी तैनात कर दिया था।

सूत्रों ने आगे बताया कि पूरे ऑपरेशन का नतीजा खोदा पहाड़ निकली चुहिया सरीखा रहा क्‍योंकि इमेजिंग डिवाइस में दिखे दो घुसपैठिए वास्‍तव में सुअर निकले। सुअर पास की एक की कॉलोनी से घुसे थे। साभार: जनसत्ता


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

Facebook Comment

Related Posts

loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें