मेहसाणा गुजरात में 1000 पटेल छात्रों के माता पिता ने शुक्रवार को यह धमकी दी कि जब तक हार्दिक पटेल और उनके समुदाय के अन्य नेताओं को जेल से रिहा नहीं किया जाता, वे अपने बच्चों को प्राथमिक और माध्यमिक स्कूल नहीं भेजेंगे।

फैसले की घोषणा करते हुए विसनगर तालुका के उमाता, कान्सा और वालमगांव गांव के पटेल समुदाय के लोगों ने अपने बच्चों से हार्दिक की रिहाई तक स्कूल न जाने को कहा है। इन तीन गांवों में 10 प्राथमिक और माध्यमिक स्कूल हैं, जहां पटेल समुदाय के लोग बड़ी संख्या में रहते हैं
इधर, इस फैसले से स्कूल के प्रिंसिपल के सिर पर बल पड़ गए हैं। कान्सा स्थित एक स्कूल के प्रिंसिपल ने जीतू पटेल ने कहा, ‘पटेल समुदाय के बच्चे आज स्कूल छोड़ कर घर चले गए। उनके मातापिता ने हमसे कहा कि उनके बच्चे तब स्कूल आएंगे जब पटेल समुदाय के लोगों को रिहा किया जाएगा। हम उन्हें समझाने की हर संभव कोशिश कर रहे हैं, क्योंकि इस बहिष्कार से छात्रों का भविष्य प्रभावित होगा।’ साभार: नवभारत टाइम्स

और पढ़े -   विदेश भागने की अफवाह पर डॉ कफील बोले - मुझे बलि का बकरा बनाया जा रहा, मेरा कोई कसूर नहीं

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE