बीएसपी सुप्रीमो मायावती पर आपतिजनक भाषा का प्रयोग करने के मामलें में बिहार की एक अदालत ने शुक्रवार को भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और निलंबित भाजपा नेता दयाशंकर सिंह के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया हैं.

वैशाली जिले के मुख्यालय हाजीपुर स्थित व्यवहार न्यायालय के मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी (सीजेएम) जयराम प्रसाद की अदालत ने राष्ट्रीय जनता दल के नेता बलिंदर दास की याचिका पर सुनवाई करते हुए पुलिस को मामला दर्ज करने का आदेश दिया हैं.

और पढ़े -   योगी सरकार और आरएसएस देगी इफ्तार पार्टी, गाय के दूध से खुलवाया जाएगा रोजा

दास ने अपनी याचिका में कहा, “मैंने अदालत से गुहार लगाई है, क्योंकि भाजपा नेता ने बसपा प्रमुख मयावती के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी कर लाखों दलितों, पिछड़े और गरीबों की भावनाओं को ठेस पहुंचाई है.

बलिंदर दास के वकील रंजीत कुमार ने बताया कि अदालत ने थाना प्रभारी को अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति एक्ट सहित विभिन्न धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज करने का निर्देश दिया है.

और पढ़े -   अगर बच्चा चोरी की घटना थी तो मारने वाली हजारों की भीड़ में कोई मुस्लिम क्यों नहीं था ?

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE