उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिला फिर से जातीय हिंसा की आग में दहल गया. दलितों और राजपूतों के बीच हुई इस जातीय हिंसा में गोली लगने से एक युवक की मौत हो गई. इसके अलावा 11 लोगों के घायल होने की खबर है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, मंगलवार को बसपा चीफ मायावती सहारनपुर के बड़ागांव एरिया के शब्बीरपुर गांव में बीते द‍िनों हुई हिंसा की विक्ट‍िम फैमिली से मुलाकात करने पहुंची थी. इस दौरान बड़ी संख्या में दलित उनसे मिलने पहुंचे थे. मायावती की सभा में शाम‍िल होकर वापस लौट रहे दलित जैसे ही बड़गांव थानाक्षेत्र के चंदपुर गांव पहुंचे, वहां पहले से मौजूद अपर कास्ट के लोगों ने धारदार हथियारों से हमला बोल दिया, जिसमें एक दलित युवक की मौत हो गई. वहीं, एक मुस्लिम व्यक्ति समेत 9 दलित गंभीर रूप से घायल हो गए थे. इसके बाद एक और शख्स की मौत हाे गई थी, जिसके बाद मरने वालों की संख्या 2 हो गई.

और पढ़े -   अंधविश्वास से होगा इंसेफेलाइटिस का इलाज, अस्पताल के पलंगों पर बिछाई गई भगवा चादर

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने जनपद सहारनपुर में घटी घटना को दुःखद और दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए घटना में मृत युवक के प्रति शोक संवेदना प्रकट की है. उन्होंने कहा है कि इस घटना के दोषी व्यक्तियों को चिन्ह्ति कर उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी. इस संबंध में जो लापरवाही घटित हुई है, उससे संबंधित अधिकारियों को दंडित किया जाएगा.

और पढ़े -   अब महाराष्ट्र में सामने आया 800 करोड़ का घोटाला, सीएम फड़णवीस से होगी पूछताछ

मुख्यमंत्री ने धैर्य व संयम बनाए रखने के साथ-साथ विपक्षी दलों सहित सभी लोगों से शान्ति बहाली में सहयोग करने की अपील की है. उन्होंने कहा है कि यह सरकार सबकी है. जाति, पंथ, मजहब के आधार पर कोई भेदभाव नहीं किया जाएगा.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE