इटानगर अरुणाचल प्रदेश में भारतीय सेना के जवानों ने म्यांमार सीमा पर एक भारतीय नागरिक को गोलियों से छलनी कर दिया. जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई. हालांकि सेना का कहना है कि ये सब गलत पहचान की वजह से हुआ.

मारे गए व्यक्ति की पहचान थिंग्तू न्गेमू के रूप में हुई. सेना की और से कहा गया कि न्गेमू को आतंकवादरोधी अभियान के दौरान गोली मारी गई.

और पढ़े -   मध्यप्रदेश: मस्जिद पर लगे मुस्लिम विरोधी पोस्टर, लिखा - बाबर की औलादों हिंदू बन जाओ

सेना ने बयान में कहा कि थिंग्तू न्गेमू को चलांग जिले में म्यांमार सीमा के पास गोली मारी गई. यह जगह उल्फा(आई) और एनएससीएन(के) जैसे आतंकवादी गुटों  के लिए ट्रांजिट रूट के रूप में प्रयोग में आती है.

गौरतलब है कि नॉर्थ-ईस्ट का हिस्से में लगातार आतंकवादी घटनाएं होती रही हैं। यहां सक्रिय आतंकी गुट अंतर्राष्ट्रीय सीमा का फायदा उठाकर म्यांमार में छिप जाते हैं और मौका देखकर हमले करते हैं

और पढ़े -   बीजेपी नेता के होटल में चल रहा था सेक्स रैकेट, चार महिला गिरफ्तार

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE