लखनऊ: एसपी दफ्तर में फरियाद लेकर पहुंची एक बुजुर्ग महिला के हाथों में लिखी पट्टिका देखकर हर कोई हैरान रह गया. बुजुर्ग महिला बोलीं, साहब मुझे किडनी निकलवाने की अनुमति दे दें, दारोगा को पांच लाख घूस देनी है.

बुजुर्ग महिला की एसपी से गुहार- मेरी किडनी बेचवा दीजिए, दारोगा को घूस देनी है

ये अजीबोगरीब वाकया एसपी अखिलेश चौरसिया के पास पहुंचा तो वे  हतप्रभ रह गए और उन्‍होंने पूरे मामले की जांच के आदेश दिए. उन्होंने बुजुर्ग की पूरी बात सुनीं और मामले की जांच से आरोपी दरोगा साधूशरण यादव को हटा दी.

दरअसल, धौरहरा की ग्राम पंचायत तुलसीरामपुरवा के मजरा गांव डिहुआकलां निवासी 80 वर्षीय देवी ने एसपी को प्रार्थना पत्र देकर बताया कि गांव के ही बलराम शुक्ला की 9 जून 2015 को गोली मार दी गई थी. बाद में उसकी 11 जून को लखनऊ के ट्रॉमा सेंटर में मौत हो गई. इस मामले में 6 लोग आरोपी हैं.

दारोगा साधूशरण यादव अब उसके आरोपी पुत्रों मुकेश और महेश को बचाने के लिए लगातार पांच लाख रुपये की मांग कर रहा है. इतना ही नहीं साधूशरण यादव और कोतवाल धौरहरा रंजीत सिंह यादव उसके निर्दोष पुत्रों महेश शुक्ला और मुकेश शुक्ला को 82 सीआरपीसी जारी करवाकर न्यायालय से उक्त तथ्यों को छिपाकर कुर्की करने के लिए निरंतर प्रयासरत है.

महिला ने एसपी को बताया है कि उसके पास पांच लाख रुपये नहीं है जिससे वह अपने बेटों की रक्षा कर सके. महिला ने एसपी से कहा कि वह अपनी दोनों किडनी बेचकर पांच लाख रुपये पुलिस को देना चाहती है, जिससे उसके बेटों को बचाया जा सकें.

एसपी अखिलेश चौरसिया ने बताया ‌कि प्रार्थनापत्र देने वाली महिला के पुत्र हत्या के मामले में वांछित हैं. इस मामले में चार अभियुक्तों की गिरफ्तारी हो चुकी है और दो की होनी है. हालांकि महिला की मांग के बाद मामले की विवेचना स्थानांतरित कर दी गई है, लेकिन आरोपियों की गिरफ्तारी जरूर होगी. साभार: न्यूज़ 18


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

Related Posts

loading...
Facebook Comment
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें