नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ऑड-ईवन योजना की सफलता के लिए दिल्ली के लोगों और इस योजना को अमली जामा पहनाने वाले विभागों को शुक्रिया कहा। केजरीवाल ने दिल्ली के लोगों से अपील की कि कल से ऑड-ईवन का पालन न करने पर चालान तो नहीं होगा, लेकिन ये जो अच्छी आदत आपको पिछले 15 दिनों में लगी है उसे अपनी इच्छा से आगे भी जारी रखें।

ऑड-ईवन की सफलता के लिए केजरीवाल ने कहा शुक्रिया, 'अपनी इच्छा से जारी रखें, अब चालान नहीं'उन्होंने बताया कि इस दौरान दिल्ली में प्रदूषण तो कम हुआ ही, साथ ही सड़कों से ट्रैफिक भी कम हो गया। उन्होंने कहा सड़कों पर ट्रैफिक कम होने से लोग काफी खुश हैं और इस दौरान उन्हें सड़कों पर कम समय बिताना पड़ा, जिससे मानसिक शांति भी मिली। उन्होंने बताया कि दिल्ली के लोग ऑड-ईवन से हो रही परेशानी को बर्दाश्त करने को तैयार हैं और चाहते हैं कि योजना को आगे भी जारी रखा जाए।

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने PWD, यातायात विभाग और मेट्रो के कर्मचारियों व अधिकारियों को ऑड-ईवन की सफलता के लिए बधाई दी। उन्होंने दिल्ली की उन महिलाओं को बधाई दी और शुक्रिया भी अदा किया, जिन्होंने ऑड-ईवन योजना के तहत छूट के बावजूद इसका पालन किया और दिल्ली को प्रदूषण मुक्त करने में मदद की।

ऑड-ईवन के कारण दिल्लीवालों के पड़ोसियों से संबंध सुधरे
केजरीवाल ने कहा, ऑड-ईवन योजना का एक फायदा यह भी हुआ कि कार पूल करने के चक्कर में दिल्लीवासियों के अपने पड़ोसियों से संबंध सुधरे। उन्होंने बताया कि डीटीसी और क्लस्टर की 6000 बसें हैं, जिनमें से हर बस को प्रतिदिन 200 किमी चलना होता था और ट्रैफिक जाम के कराण 180 किमी ही चल पाती थीं, इस दौरान हर बस करीब 220 किमी चली। उन्होंने कहा, इन 6000 बसों ने 9000 बसों के बराबर काम किया।

मुख्यमंत्री ने एक और आंकड़ा देते हुए बताया कि जहां पहले प्रतिदिन 47 लाख लोग बसों से सफर करते थे, इस दौरान 53 लाख लोगों ने बस से सफर किया। मुख्यमंत्री ने बताया कि रविवार 17 जनवरी को छत्रसाल स्टेडियम में होने वाले एक कार्यक्रम में उनकी पूरी कैबिनेट मौजूद रहेगी। साथ ही दिल्ली सरकार के सभी विभागों के अफसर, सिविल डिफेन्स के वॉलंटियर, ट्रैफिक पुलिस के कर्मचारी, एसडीएम आदि सब लोग मौजूद रहेंगे और दिल्ली की आम जनता को यहां आने का निमंत्रण दिया गया है।

सोमवार को होगी ऑड-ईवन की समीक्षा
इसके अलावा सोमवार 18 जनवरी को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल दिल्ली में ऑड-ईवन के बाद के हालात पर एक समीक्षा बैठक करेंगे, जिसमें आगे प्रदूषण से लड़ने के लिए क्या कदम उठाए जाएं इस पर चर्चा होगी।

परिवहन मंत्री गोपाल राय ने बताया कि दिल्ली के बॉर्डर के इलाकों में ऑड-ईवन के दौरान भी प्रदूषण ज्यादा रहा, जबकि शहर के अंदर प्रदूषण में कमी देखी गई। उन्होंने बताया इस दौरान कुल 9144 चालान काटे गए, जिनमें से 2889 ट्रैफिक पुलिस और बाकी परिवहन विभाग, एसडीएम आदि ने काटे। साभार: NDTV


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

Facebook Comment

Related Posts

loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें