नई दिल्ली: दिल्ली में 15 दिनों के ऑड-ईवन फॉर्मूले को मिले समर्थन से उत्साहित दिल्ली सरकार एक बार फिर इसे अमल में लाने की तैयारी में है। सूबे के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल आज इस मुद्दे पर एक बैठक करेंगे। केजरीवाल सरकार ने ऑड-ईवन फॉर्मूले को फिर से चालू करने के लिए जनता की राय मांगी थी।

ऑड-ईवन को फिर लाने की तैयारी में दिल्ली सरकार, बैठक आज, दूल्हा-दुल्हन के लिए मांगी छूट10 लाख से अधिक लोगों ने भेजी राय
इस मामले में 10 लाख से अधिक लोगों ने अपनी राय भेजी है। पहली दफा सरकार ने इसे 1 जनवरी से 15 जनवरी तक लागू किया था। अधिकांश लोग इस फॉर्मूले के समर्थन में दिखे थे। प्रदूषण पर भी इसका असर दिखा। तभी केजरीवाल ने अगली बार और सुधारों के साथ इस योजना को अमल में लाने की बात कही थी।

और पढ़े -   मध्यप्रदेश में 15 दिन में 22 किसानों ने की आत्महत्या, बीजेपी कर्जमाफ़ी को बता रही फैशन

माना जा रहा है कि इस बार दोपहिया वाहनों को भी इस फॉर्मूले के दायरे में लाया जाएगा। इस बीच दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण पर राष्ट्रपति ने भी चिंता जताई है।

दूल्हा दुल्हन को मिले विशेष छूट
सम-विषम कार योजना पर खत्म हुए सार्वजनिक सलाह मशविरा कार्यक्रम के दौरान दिल्ली के एक निवासी ने आप सरकार को सुझाव दिया कि जब इस योजना का दूसरा चरण लागू किया जाए तो दूल्हा और दुल्हन को लेकर जाने वाले वाहनों को इससे छूट दी जाए। दरअसल, अरविंद केजरीवाल सरकार ने सभी विधानसभा क्षेत्रों में दो दिवसीय सार्वजनिक सलाह मशविरा कार्यक्रम आयोजित किया, जिसमें सम-विषम योजना के दूसरे चरण पर जनता की राय मांगी गई।

और पढ़े -   झारखंड पुलिस ने मुस्लिम युवक का किया फर्जी एनकाउंटर, इलाके में फैला तनाव

पश्चिम विनोद नगर में एक कार्यक्रम में, एक निवासी सत्यदेव भंडारी ने दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को सलाह दी कि दिल्ली सरकार दूल्हा या दुल्हन को लेकर जाने वाले वाहनों को छूट दे। सत्यदेव के बेटे की उत्तराखंड की एक लड़की से जल्द शादी होने वाली है और इसी बात को ध्यान में रखकर उन्होंने यह सुझाव दिया।

ज्यादातर लोगों ने किया सम-विषम योजना का समर्थन
इन बैठकों में ज्यादातर लोगों ने सम-विषम योजना का समर्थन किया। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल इस योजना के अगले चरण के लिए सोमवार को अपने मंत्रियों के साथ समीक्षा बैठक करेंगे। (NDTV)

और पढ़े -   पेड न्यूज मामले में चुनाव आयोग ने शिवराज के मंत्री को दिया अयोग्य करार

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE