gang

उत्तरप्रदेश के बुलंदशहर में गैंगरेप का मामला अभी पूरी तरह से शांत भी नहीं हुआ हैं कि अब  मेरठ जिले में कुछ लोगों ने एक महिला और उसकी नाबालिग बेटी को अगवा कर महिला के साथ चलती कार में कथित रूप से सामूहिक बलात्कार किया गया.

घटना के बाद आरोपियों ने महिला को बेहोशी की हालात में शिवा जी रोड पर कब्रिस्तान के पास फेंक दिया और मौके से फरार हो गए. होश में आने के बाद महिला ने शुक्रवार रात पुलिस को घटना की जानकरी दी, जिसके बाद पुलिस मुकदमा दर्ज कर महिला का मेडिकल परीक्षण करा रही है.

घटना के संबंध में पीड़ित की शिकायत पर पुलिस ने तीन नामजद समेत चार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर एक आरोपी को हिरासत में लिया है. हालांकि प्रारंभिक छानबीन के आधार पर पुलिस घटना को पूरी तरह संदिग्ध बता रही है.

पुलिस क्षेत्राधिकारी विनोद सिरोही ने शनिवार को पीड़ित महिला की शिकायत के हवाले से बताया कि थाना नौचंन्दी क्षेत्र निवासी 45 वषीय एक महिला अपनी 13 साल की बेटी के साथ शुक्रवार को तेजगढ़ी स्थित एक डॉक्टर के क्लीनिक पर जा रही थी. रास्ते में एक लग्जरी कार में सवार पांच लोगों ने उनसे किसी जगह का रास्ता पूछा और कार के अंदर खींच लिया.

सिरोही के अनुसार, आरोप है कि कार में सवार तीन लोगों ने महिला से सामूहिक बलात्कार कर उसे कचहरी के पास फेंका और फरार हो गए. महिला अपनी बेटी को तलाश कर ही रही थी कि उसे कचहरी में कार सवार लोगों में से एक व्यक्ति आस मोहम्मद निवासी किठौर दिख गया. महिला ने शोर मचाते हुए उसे लोगों की मदद से पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया. कुछ ही देर बाद महिला की बेटी भी जेल चुंगी के पास से बरामद हो गई. बेटी का कहना था कि वह आरोपी आस मोहम्मद के कब्जे से छूटकर मां को तलाशती हुई जेल चुंगी पहुंची थी.

पुलिस क्षेत्राधिकारी के अनुसार पीड़ित महिला की शिकायत पर आस मौहम्मद, आसिफ, नईमुद्दीन तथा एक अन्य व्यक्ति के खिलाफ नौचन्दी थाने में मुकदमा दर्ज कर घटना की जांच की जा रही है. घटना की प्रांरभिक छानबीन के आधार पर पुलिस अधीक्षक नगर ओमप्रकाश ने बताया कि घटना पूरी तरह संदिग्ध है. बहरहाल, पुलिस घटना की जांच कर रही है.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें