10-1439208427-ayodhya-ram-mandir

यूपी में विधानसभा चुनाव में इस बार भी राम मंदिर का मुद्दा उठाने की कोशिशे शुरू हो चुकी हैं. अखिल भारतीय संत सम्मेलन और धर्म संसद में अयोध्या में मंदिर बनाने की तिथि को लेकर फैसला किया है. इस फैसले में कहा गया कि इसी साल कार्तिक अक्षय नवमी (नौ नवंबर) से मंदिर का निर्माण कार्य शुरू होगा.

सबसे पहले रामलला परिसर में सिंह द्वार का निर्माण होगा. संतों ने कहा कि मंदिर जनता के सहयोग से बनाया जाएगा, इसमें मोदी सरकार का कोई लेना-देना नहीं है.

दूसरी तरफ श्रीराम जन्मभूमि मंदिर निर्माण न्यास अयोध्या के अध्यक्ष महंत जन्मेजय शरण महाराज ने कहा कि मंदिर निर्माण और जमीन को लेकर अखाड़ा लड़ाई लड़ता रहा है. उन्होंने कोर्ट के आदेश का पालन करते हुए निर्माण की बात कही हैं.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें