gh

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा हजार और पांच सौ के नोट को अमान्य कियें जाने के बाद देश भर की जनता को नकदी की अभाव में कई समस्याओं का सामना करना पड़ रहा हैं. इसी के चलते कोलकाता में राजनितिक पार्टियों ने सरकार के खिलाफ इसे मुद्दा बनाए हुए मौर्चा खोल दिया हैं.

कोलकाता में सोसलिस्ट यूनिटी सेंटर ऑफ इंडिया (कम्यूनिस्ट) के कार्यकर्ताओं ने सोमवार को सड़कों पर पीएम मोदी के पुतले जलाकर अपना विरोध दर्ज कराया. कॉलेज स्क्वायर से शुरू हुई रैली में कार्यकर्ताओं ने पीएम मोदी के फैसले को आम लोगों के खिलाफ बताया.

पार्टी के सचिव सुमैन बसु ने कहा, ‘केंद्र सरकार को नोटबंदी के फैसले से पहले उचित कदम उठाने चाहिए थे. आम लोगों को बहुत परेशानी हो रही है. मरीजों के परिवार को खुल्ले पैसों के लिए भागते देखना काफी दुख देने वाला होता है. कई लोगों की इस चक्कर में मौत हो गई.’

केंद्र के इस फैसले को लेकर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पहले ही अपना विरोध दर्ज करा चुकी हैं. इस मुद्दें को लेकर वह सांसदों के साथ राष्ट्रपति से भी मुलाक़ात करेंगी. इसको लेकर बासु ने कहा कि अगर ममता उनकी पार्टी के लोगों को उनके साथ आने के लिए कहेंगी तो वह जरूर उनका साथ देंगे.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें