राष्ट्रीय ओलमा कौन्सिल के राष्ट्रीय अध्यक्ष मौलाना आमिर रशादी मदनी ने अमरनाथ यात्रियों पर हमला करने वालों को हैवान करार दिया है. उन्होंने कहा कि बेगुनाह, निहत्ते औरत-मर्दों पर हमला करने वाले इंसान नही हैवान हैं और ऐसे लोगों के लिए धर्म, मानवता और प्रेम कोई मायने नही रखता.

उन्होंने हमले की उच्चस्तरीय जांच की मांग उठाते हुए कहा कि दोषियों के खिलाफ फोरी कारवाई से काम नहीं चलेगा. उन्होंने कहा कि हमारी संवेदनाएं मृतकों के परिवारों के साथ है, ईश्वर इन्हे धैर्य दे और घायलों को जल्द सेहत दे.

और पढ़े -   मध्यप्रदेश: शिवराज के मंत्री ने किया स्वतंत्रता दिवस पर राष्ट्रध्वज का अपमान

मदनी ने आगे कहा कि दोषियों की पहचान कर ऐसी सज़ा दी जाए कि कभी दुबारा ऐसा हमला करने की हिम्मत न हो. उन्होने देशवासियों से अपील की है कि ऐसे समय में पूरे देश को एकजुट होकर एक साथ खड़े होने की ज़रूरत है.

उन्होंने आगे कहा कि ऐसे में अब देशवासियों को और एकजुट होकर रहने की जरुरत है. क्योंकि कुछ लोग इस बहाने देश में नफरत फैलाकर देश की एकता व अखण्डता को नुकसान पहुंचाने की कोशिश करेंगे.

और पढ़े -   गुजरात: फिर सामने आया ऊना कांड, दलित युवक और महिला की नग्न कर पिटाई

मदनी ने ड्राईवर सलीम की तारीफ़ करते हुए कहा कि अमरनाथ यात्रियों की अपनी जान पर खेल कर जान बचाकर देश में एकता और भाईचारे की एक और मिसाल कायम की.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE