बड़े-बड़े दावों के बीच राज्य की योगी सरकार और केंद्र की मोदी सरकार की पोल खुल रही है. जहाँ अपने बच्चों के लिए मदद न मिलने के कारण एक माँ को अपनी किडनी बेचने को मजबूर होना पढ़ रहा है.

मामला आगरा के रोहता क्षेत्र का है. जहाँ आरती शर्मा अपनी तीन बेटियों और एक बेटे को पढ़ाने की खातिर अपनी किडनी बेचना चाहती है. दरअसल आरती शर्मा के पति मनोज शर्मा कुछ समय पहले रेडीमेड कपड़ों का काम करते थे लेकिन अचानक उनका व्यवसाय पूरी तरह से बंद हो गया. उसके बाद से पूरा परिवार दर-दर भटक रहा है.

और पढ़े -   आसाराम से पूछा गया: संत हो या कथावाचक, बोले - 'मैं तो गधा हूं'

आरती शर्मा के मुताबिक फीस न भरने के कारण उनके तीनों बेटियों और बेटे को स्कूल से बाहर निकाल दिया गया. अपने बच्चों का भविष्य बचाने के लिए आरती ने जिलाअधिकारियों के सामने मदद की गुहार लगाई, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई. उसके बाद आरती शर्मा ने लखनऊ में योगी आदित्यनाथ से भी मुलाकात की.

योगी आदित्यनाथ ने पूरी तरह से भरोसा दिलाया कि उसकी बेटियों को पढ़ाई के लिए पूरा खर्चा सरकार देगी लेकिन आज तक उसकी सुनवाई नहीं हुई.

और पढ़े -   योगी सरकार की कर्जमाफी - 1.5 लाख के कर्ज के बदले किया गया सिर्फ 1 पैसा माफ

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE