बिहार के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे देने के बाद नीतीश कुमार ने कायकारी राज्यपाल केशरी नाथ त्रिपाठी से मिल बीजेपी के सहयोग से सरकार बनाने का दावा पेश किया है. मुख्यमंत्री के रूप में नीतीश कुमार गुरुवार सुबह 10 बजे शपथ ले सकते हैं.

राजभवन से बाहर निकलने के बाद बीजेपी नेता सुशील कुमार मोदी ने कहा कि गुरुवार सुबह 10 बजे राजेंद्र मंडप हॉल में शपथ ग्रहण का आमंत्रण दिया गया है. उन्होंने कहा कि वो जल्द से जल्द विधानसभा में बहुमत साबित करेंगे. उन्होंने ये भी बताया कि उनकी ओर से 132 विधायकों के समर्थन की सूची राज्यपाल को सौंपी गई है.

और पढ़े -   पश्चिम बंगाल: निकाय चुनाव में चला ममता का जादू, निकली मोदी लहर की हवा

इस नई सरकार में भाजपा विधानमंडल दल के नेता सुशील कुमार मोदी राज्य के नए उप मुख्यमंत्री होंगे. इसके अलावा भाजपा कोटे से दर्जन भर से अधिक विधायकों को भी सरकार में शामिल होने का मौका मिलेगा. समारोह में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के शामिल होने की चर्चा है.

फिलहाल जेडीयू-आरजेडी और कांग्रेस के महागठबंधन वाली सरकार में आरजेडी, जेडीयू और कांग्रेस के कुल 178 विधायक हैं. कुल 243 सदस्यों वाली विधानसभा में बहुमत के लिए 122 विधायकों की जरूरत है. जनता दल यूनाइटेड के कुल 71 विधायक हैं. बीजेपी और उसके सहयोगी दलों के 58 विधायक हैं. इन दोनों को मिलाकर कुल संख्या 129 होती है जो कि बहुमत के लिए पर्याप्त है.

और पढ़े -   AMU के बाब-ए-सैयद पर वंदे मातरम् के साथ दक्षिणपंथियों ने की गोलीबारी

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE