Owaisi_1

ऑल इण्डिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लमीन (एआईएमआईएम) के राष्ट्रीय अध्यक्ष व सांसद असदउददीन ओवैसी ने आगामी उत्तरप्रदेश के विधानसभा चुनावों में सभी सीटों पर चुनाव लड़ने की घोषणा कर दी हैं. ऐसे में उन्होंने जब जमीन पर संगठन की मजबूती परखी तो उनके होश ही उड़ गए.

सांसद ओवैसी ने यूपी की 16 विधानसभा सीटों पर गुप्त रूप से एक सर्वे कराया. ये सर्वे ओवैसी की निगरानी में बहराइच सदर, नानपारा,शोहरतगढ़, उतरौला, डुमरियागंज, बलरामपुर और गोण्डा की 16 विधान सभा सीटों पर कराया गया. सर्वे के दौरान हैदराबाद से आए पार्टी के दस पदाधिकारियों की टीम ने गोपनीय ढंग से मतदाताओं से पार्टी के बारें में फीडबेक ली.

और पढ़े -   बड़ा खुलासा - बीजेपी नेता करता था अधिकारियों को स्कूली छात्राओं की सप्लाई

सर्वे के तहत हर विधान सभा सीट से पांच सौ लोगों से बातचीत की गयी. सर्वे की जो रिपोर्ट राष्ट्रीय अध्यक्ष ओवैसी को सौंपी गई उसके निष्कर्षों में कहा गया कि जमीनी स्तर पर पार्टी का संगठनात्मक ढांचा कमजोर है. साथ ही पार्टी की गतिविधियां और जानकारी को आम लोगों तक पहुंचाने की जिम्मेदारी जिन लोगों पर डाली गई उनमें से तमाम लोग अपने-अपने इलाके में सक्रिय नहीं नजर आए.

और पढ़े -   योगीराज: दलित छात्र से बदसलूकी, स्कूल अधिकारी ने करवाई कुत्तों की मालिश

ऐसे में ओवैसी ने अपने आठ जिलाध्यक्षों को पहले ही बाहर का रास्ता दिखाया और कई संभावित प्रत्याशियों को क्षेत्र में कमजोर पकड़ पर सख्त चेतावनी भी दी.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE