sbi

बिहार की नीतीश सरकार में हुए करोड़ों के शौचालय घोटाले में एक के बाद के नाम सामने आ रहे है. अब इस मामले में बक्सर से स्टेट बैंक के शाखा प्रबंधक शिव कुमार झा को गिरफ्तार किया गया है.

शिव कुमार झा पर आरोप है कि इस मामले में दो कथित मास्टरमाइंड पीएचईडी विभाग के तत्कालीन कार्यपालक अभियंता विनय कुमार सिन्हा और कैशियर बिटेस्वर से मिलकर बिना हस्ताक्षर के एक दर्जन से अधिक चेक पास कर एनजीओ के खाते में डाल दिया.

ध्यान रहे 10 हजार शौचालय निर्माण से जुड़ा ये घोटाला  करीब 15 करोड़ रुपये का है. 15 करोड़ रुपये का शौचालय घोटाला उजागर होने के बाद इसकी जांच के लिए एसआइटी की टीम बनाई गई है.

इस घोटाले का खुलासा उस वक्त हुए था जब नवादा के आदि सेवा संस्थान के खाते में चेक पर बगैर हस्ताक्षर के करीब 10 करोड़ रुपये शंकर की मदद से भेजे गए थे.

जिला प्रशासन ने इस मामले में 3 नवंबर को विनय कुमार सिन्हा, बिटेश्वर के अलावा चार एनजीओ व उससे जुड़े 8 लोगों पर करीब 14 करोड़ रुपए गबन करने के आरोप में प्राथमिकी दर्ज कराई थी.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE