पटना: बिहार में नवादा के आरजेडी विधायक पर एक नाबालिग लड़की ने कथित तौर पर दुष्कर्म का आरोप लगाया है। दुष्कर्म के कथित आरोप के बाद विधायक फरार चल रहे हैं और पुलिस छापेमारी की कार्रवाई कर रही है।

पटना के डीआइजी शालीन ने नवादा के आरजेडी विधायक राजबल्लभ प्रसाद के खिलाफ एक नाबालिग लड़की के दुष्कर्म के आरोप में गिरफ्तारी का आदेश दिया है। नालंदा पुलिस ने नवादा विधायक के पैतृक गांव पथरा इंगलिश में छापेमारी की।

नवादा नाबालिग रेप मामले में आरजेडी विधायक के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट, एमएलए फरार

हालांकि विधायक इससे पहले ही फरार हो चुके थे। नालंदा जिले के रहुई थाने के सुल्तानपुर की 15 वर्षीय नाबालिग लड़की ने नालंदा महिला थाने में रेप की शिकायत दर्ज कराई थी। नाबालिग लड़की ने आरोप लगाया था कि 6 फरवरी को बिहारशरीफ के धनेश्वर घाट मुहल्ले की सुलेखा देवी उसे बर्ड-डे पार्टी में ले जाने के बहाने गिरियक ले गई। सुलेखा ने नाबालिग को विधायक के हवाले कर दिया और विधायक ने उसके साथ कथित तौर पर दुष्कर्म किया।

पीड़ित छात्रा का आरोप है कि सुलेखा उसे गिरियक के एक घर में लेकर गई और शराब पीने को कहा, लेकिन उसने इनकार कर दिया। उसके बाद एक व्यक्ति वहां पंहुचा और उस व्यक्ति ने महिला के सामने ही पीड़ित छात्रा के साथ कथित तौर पर कई बार दुष्कर्म किया और महिला इसे पकड़े रही। इसके ऐवज में उस व्यक्ति ने महिला को एक रात की कीमत 30 हजार रुपये दिए और उसके बाद दूसरे दिन पीड़ित को यह कहकर घर पंहुचा दिया कि यह बात किसी से नहीं कहना।

मगर पीड़ित छात्रा ने सारी बात अपनी बड़ी बहन को बता दी और बहन ने पिता को बताया, इसके बाद पीड़ित अपने परिवार के साथ महिला थाने गई और सुलेखा देवी और उस व्यक्ति के खिलाफ मामला दर्ज कराया।

पुलिस ने भी इस मामले को काफी गंभीरता से लिया और तुरंत सेक्स रैकेट चलाने बाली महिला के घर पर छापेमारी की, मगर पुलिस के पहुंचने से पहले ही आरोपी महिला फरार हो चुकी थी।

पुलिस ने मीडिया को यह भरोसा दिया है कि इस प्रकार के नेटवर्क चलाने बाली महिलाओं को अब छोड़ा नहीं जाएगा और उसे गिरफ्तार कर कड़ी से कड़ी सजा दिलाई जाएगी, ताकि वह आगे से किसी नबालिक को अपना शिकार न बना सके।

इस मामले में पीड़ित लड़की ने कथित तौर पर बलात्कार करने वाले आरोपी की पहचान नवादा के विधायक राजबल्लब प्रसाद यादव के रूप में की, तो डीआईजी ने मामले को गंभीरता से लिया है और विधायक की गिरफ़्तारी का आदेश दे दिया है।

इस मामले में महिला के अलावा दो अन्य लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई थी। डीआइजी की पहल पर लड़की के साथ घटनास्थल का मुआयना किया गया। उसके बाद गिरफ्तारी का आदेश दिया गया है। बताया जाता है कि नाबालिग अपनी बड़ी बहन और भाई के साथ बिहारशरीफ में रहकर पढ़ाई करती थी। तभी पड़ोस की सुलेखा के जरिए इस घटना को अंजाम दिया गया। पुलिस मामले की जांच कर रही है। (NDTV)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें