मुजफ्फरनगर के शहर कोतवाली के गांव शेरपुर में गौकशी की झूठी खबर पर छापेमारी के बाद पुलिस को भारी विरोध का सामना करना पढ़ा है. इस दौरान गुस्साए लोगों ने मौके पर पहुंचे पुलिस कर्मियों को बंधक बना लिया.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, शुक्रवार शाम को शेरपुर के इस्लाम और हसरत के घर में गोकशी किए जाने की पुलिस को झूठी खबर मिली. इस पर पुलिस ने इस्लाम के घर पर छापेमारी की. इस दौरान घर की महिलाओं के साथ दुर्यव्य्व्हार किया गया. पुलिस ने घर में बन रही आलू और गोभी की सब्जी तक को भी चेक किया.

ग्रामीणों का आरोप है कि झूठी सूचना पर पुलिस ने ग्रामीणों के साथ अभद्रता की और मार पिटाई करते घरो में तोड़फोड़ भी की. ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि पुलिस की इस कार्रवाई में कई बच्चे और युवा घायल हो गए.  पड़ोसियों का कहना है कि आलू गोभी की सब्जी आंगने में फेंकते हुए कहा कि चुप चाप बताओ कि गोश्त कहां हैं ? गोश्त ना देख पुलिस ने चूल्हे पर रखी सब्जी को खोलकर देखना शुरू कर दिया जिससे मामला बढ़ गया.

ग्रामीणों ने बताया कि पुलिस ने फायरिंग की और उसमें 5 लोग घायल हो गए जिसमें 11-12 साल का एक बच्चा भी शामिल है. वहीं ग्रामीण सहजाद ने कहा कि मैं बीमार हूं। घर में पड़ा हुआ था, पुलिस ने आते ही मुझे लात मारी थप्पड़ मारे. मैंने रोजा रखा था और मैंने कुछ नहीं खाया था. पुलिस वाले पूछ रहे थे की गोश्त कहा है , मैंने कहा की मुझे नहीं पता में तो बीमार हूं घर की चूल्हे को भी तोड़ कर गए.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE