बहुजन समाज पार्टी द्वारा सभी सीटों पर उम्मीदवारों की घोषणा के बाद अब आल इण्डिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लमीन (AIMIM) ने भी उत्तरप्रदेश में अकेले चुनाव लड़ने का ऐलान किया हैं.

दरअसल बसपा और AIMIM में गठबंधन को लेकर शुरू से ही कयास लग रहे थे. इसके लिए ओवैसी बहुजन समाज पार्टी के साथ प्रदेश में सीटों का तालमेल कर गठबंधन में चुनाव लड़ने की कोशिश कर रहे थे मगर बसपा द्वारा अपने सभी प्रत्याशियों की सूची जारी करने के बाद आखिरकार ओवैसी ने भी अकेले दम पर चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया.

और पढ़े -   बीजेपी नेताओं को बचाने के लिए जफर के मामलें को रफादफा करने में जुटी वसुंधरा की पुलिस

एमआईएम के प्रदेश अध्यक्ष शौकत अली ने बताया कि सोमवार को उनकी पार्टी प्रदेश विधान सभा चुनाव के पहले व दूसरे चरण के लिए अपने उम्मीदवारों की सूची जारी कर देगी. उन्होंने कहा कि सत्ता में भाजपा को आने से रोकने की जिम्मेदारी अकेले मुसलमानों की ही नहीं बनती.

उन्होंने कटाक्ष करते हुए कहा कि यह सेक्यूलर पार्टियां मुसलमानों को डीलर बनाने पर आमादा हैं मगर उनकी पार्टी मुसलमानों को लीडर बनाने की तैयारी कर चुकी है.

और पढ़े -   बलात्कार के दौरान पीड़िता ने काटा था पुजारी का लिंग, अब अदालत ने खारिज की जमानत

वहीँ पीस पार्टी भी अपने सहयोगी दल निर्बल इण्डियन शोषित हमारा आमदल (निषाद पार्टी) के साथ मिलकर प्रदेश की सभी 403 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारने की तैयारी कर चुकी हैं.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE