Courtesy: Lokbharat

मध्यप्रदेश के श्योपुर में साम्प्रदायिक सौहार्द की एक बड़ी मिसाल देखने को मिली है. ईद के मौके पर 34 वर्षीय एक मुस्लिम युवक ने मंदिर निर्माण के लिए अपनी और से जमीन दान की है.

श्योपुर के अनुविभागीय दंडाधिकारी आर बी सिण्डोसकर ने पीटीआई को बताया, श्योपुर के वार्ड नंबर-एक में रहने वाले जावेद अंसारी ने अपनी बगवाज गांव स्थित जमीन का एक हिस्सा वहां के इमली वाले हनुमान मंदिर समिति को हाल में दान में दी है. दान दी गई यह जमीन करीब 1905 वर्ग फुट है.

और पढ़े -   भाजपा महिला नेता की गुंडई, काम को लेकर की आलोचना तो युवक को सरेआम पीटा

उन्होंने कहा, जावेद अंसारी ने अपने स्वामित्व की भूमि में से हनुमान मंदिर के लिए जमीन दान करने का आवेदन दिया था. आवेदन उपरांत जमीन के मालिक परिवार के सभी सदस्यों के बयान और सहमति से जमीन को इमली वाले हनुमान मंदिर समिति के नाम कर दिया गया है.

जावेद अंसारी ने इस बारें में बताया, साम्प्रदायिक सौहार्द बनाने के लिए मैंने यह जमीन हनुमान मंदिर को दान दी है. मेरा मानना है कि ऐसा काम करने से हिन्दू एवं मुस्लिम समुदाय के बीच भाईचारा बढ़ेगा.

और पढ़े -   मोदी सरकार ने दी हजारों चकमा और हजोंग शरणार्थियों को नागरिकता, जल उठा अरुणाचल प्रदेश

बगवाज गांव स्थित इमली वाले हनुमान मंदिर समिति के अध्यक्ष राजू वैश्य ने बताया कि जावेद अंसारी ने अपने भाइयों परवेज, शहनाज, शोएब एवं शादाब से सलाह मशविरा कर यह जमीन मंदिर को दी है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE