SO the female soldier with pleasure, forcing the baby to night duty

गुजरात के राजकोट में पुलिस उत्पीड़न से परेशान मुस्लिम महिला ने अपनी दो बेटियों के साथ जहर पीकर आत्महत्या करने की कोशिश की है. ये घटना स्थानीय कोर्ट परिसर में घटित हुई.

प्राप्त जानकारी के अनुसार,  महिला और उसकी दोनों बेटियों को कोर्ट परिसर में कीटनानाशक पीने के बाद तुरंत राजकोट सिविल हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया. इन सभी की हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है.

और पढ़े -   गोरखपुर: मृतक बच्चों के शवों को ले जाने के लिए एम्बुलेंस तक नहीं दे पाई योगी सरकार

प्रद्युमन नगर पुलिस स्टेशन के इंस्पेक्टर का कहना है अभी उनकी हालत ठीक है और वे खतरे से बाहर है. पीड़ित महिला की पहचान नसरीन गुलज़ार के रूप में हुई. उसकी दो बेटियों का नाम नाजनीन और शीरीं है.

महिला का आरोप है कि राजकोट के कुछ पुलिसवाले उनके परिवार का बहुत दिनों से उत्पीड़न कर रहे हैं, पुलिसवाले उनके घर पर दिन या रात के किसी भी समय आ जाते है फिर उनके और उनकी बेटियों के साथ बदतमीजी करते हैं. बहुत-बहुत देर तक परेशान करते रहते हैं.

और पढ़े -   गोरखपुर हादसे को लेकर एएमयू में मुख्यमंत्री योगी का पुतला फूंका

नसरीन का यह भी कहना है कि उनके पति पर भी झूठे आरोप लगाकर मामला दर्ज कराया गया है. वहीं पुलिस इंस्पेक्टर का कहना है कि नसरीन और उनकी बेटियों का मेडिकल टेस्ट होते ही वे उनका बयान लेंगे और कड़ी करवाई करेंगे.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE