उत्तरप्रदेश के अंबेडकरनगर जिले के जलालपुर के सोहगूपुर गांव में हाल ही में कथित मुस्लिमों ने अपना धर्म त्याग कर हिंदू धर्म में घर वापसी की थी. लेकिन अब उनका ये फैसला उन्ही के लिए मुसीबत बन गया है.

पिछले दिनों आर्य समाज मंदिर में करीब दो दर्जन लोगों द्वारा हिन्दू धर्म ग्रहण करने वाले ये 22 लोग एक महीने के अंतराल के बाद ही हिंदु पड़ोसियों के जुल्म का शिकार होना शुरू हो गए है. दरअसल इन लोगों ने पहले हिंदू धर्म त्याग कर इस्लाम धर्म अपनाया था, और ये सभी नीची जाति से ताल्लुक रखते है.

और पढ़े -   पंचायत चुनाव में समाजवादी पार्टी ने 4 सीटें जीतकर की शानदार वापसी

घर वापसी करने वाले रमेश की पत्नी संगीता ने जलालपुर थानाध्यक्ष और विश्व हिंदू परिषद के अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रवीण भाई तोगड़िया को सूचना देकर सुरक्षा की गुहार लगाई है. उधर, तोगड़िया के निर्देश पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के घरवापसी प्रभारी कैलाशचंद्र श्रीवास्तव सोहगूपुर पहुंचे और घर वापसी करने वाले परिवारों की समस्याएं हल करने की जिम्मेदारी शकुंतला उपाध्याय को सौंपी.

और पढ़े -   खाप पंचायत ने किया था बहिष्कार, पुरे परिवार ने अपनाया इस्लाम धर्म

शकुंतला ने घर वापसी करने वाले परिवारों के साथ बदसलूकी करने वालों के खिलाफ कार्रवाई का आश्वासन दिया. उन्होंने जलालपुर के थानाध्यक्ष से इनको सुरक्षा देने की मांग की.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE