देश में कथित गौरक्षा के नाम पर अब तक एक दर्ज मुस्लिमों को जान ली जा चुकी हैं, वहीँ गौरक्षा के नाम पर दो महिलाओं के साथ बालात्कार किया जा चूका हैं. बावजूद इसके मथुरा जिले के मुस्लिम बहुल मडोरा गांव की पंचायत ने गौहत्या पर 2.51 लाख का जुर्माना निर्धारित किया हैं.

गांव के पूर्व प्रधान गफ्फार ने पंचायत के फैसले के बारें में कहा कि “2.51 लाख रुपए के कुल जुर्माने में से 51 हजार रुपए ऐसे व्यक्ति को दिए जाएंगे जो गौहत्या या गाय की चोरी करने वाले की जानकारी देगा.” वहीँ गांव के प्रधान उस्मान ने कहा, “इस फैसले की मुख्य वजह गौहत्या और चोरी रोकना है.”

और पढ़े -   ट्रिपल तलाक: सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ सड़कों पर उतरी मुस्लिम महिलाएं

साथ ही पंचायत ने ये भी फैसला लिया कि जो भी लड़की सड़क पर फोन पर बात करती दिखेगी उससे 21 हजार रुपए का जुर्माना लिया जाएगा. इसके अलावा नकली शराब बेचते पकड़े जाने पर 1.11 लाख रुपए व नशे की हालत में पकड़े जाने पर 31,000 रुपए जुर्माना लिया जाएगा.

गफ्फार ने कहा कि ताश और जुआ खेलने वालों को 1 लाख रुपए जुर्माना देना होगा. उन्होंने बताया पांच सदस्यों की एक समिति बनाई गई है जिनके समक्ष जुर्माने की राशि जमा करानी होगी। इन पैसों का इस्तेमाल सामाजिक कार्यों में होगा.”

और पढ़े -   उत्तर प्रदेश में भी बाढ़ का कहर जारी, हुई अब तक 69 लोगों की मौत

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE