alw1

36 कौमों को साथ लेकर चलने का दावा करने वाली वसुंधरा सरकार के शासन में मुस्लिमों को जीना ही दूभर हो गया है. कथित गौरक्षा के नाम पर फैले भगवा आतंक का मुसलमान शिकार बन रहे है.

पहलू खान के बाद एक बार फिर से अलवर में गाय ले जा रहे दो मुस्लिमों की बेदर्दी के साथ पीटा गया, जिसमे से एक व्यक्ति की मौके पर ही मौत हो गई. यह जघन्य कांड शनिवार की रात को भगवा संगठनों के कार्यकर्ताओं ने अंजाम दिया है.

इस घटना में एक युवक उमर खान की मौत हो गई है, जबकि ताहिर का हरियाणा के निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है. मेव समाज का कहना है कि हिंदूवादी संगठन के लोगों ने पुलिस के साथ मिलकर गाय ले जा रहे मुस्लिम युवकों के साथ मारपीट की और गोली मारकर हत्या कर दी. इसके साथ ही साथ युवकों के अंग-भंग भी कर दिए.

फिलहाल पुलिस ने अलवर की गोविंदगढ़ थाने में अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है. लेकिन दोनों युवकों के परिजनों ने पुलिसिया जांच पर विश्वास न होने की बात कहते रहुए मामले में उच्च स्तरीय जांच की मांग की है.

गौरतलब है कि अलवर जिले के बहरोड़ में 3 अप्रैल को गोरक्षकों द्वारा पहलू खान की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी. इस मामले में 6 लोगों के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज करवाई गई थी. ये सभी संघ परिवार से जुड़े थे.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE