abid

समाजवादी पार्टी (सपा) के प्रमुख मुलायम सिंह यादव के भतीजे धर्मेंद्र यादव पर आरोप लगाने के कारण विधायक आबिद रजा को पार्टी से निलंबित कर दिया गया है. निलंबन की कारवाई मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव द्वारा रविवार को की गई.

बदायूं से विधायक आबिद रजा और उनकी पत्‍नी फातिमा ने बिना लिए धर्मेंद्र यादव पर ठेकों में भ्रष्‍टाचार और अवैध खनन जैसे आरोप लगाए थे. साथ ही आबिद रजा ने बदायूं से सांसद धर्मेंद्र यादव पर गोहत्‍या कराने का भी आरोप लगाया था. जिसके बाद उन्हें समाजवादी पार्टी और विधान मंडल से निलंबित कर दिया गया.

और पढ़े -   राजपूतों ने वसुंधरा सरकार को झुकाया, आनंदपाल एनकाउंटर की सीबीआई जांच की देनी पड़ी मंजूरी

इसके अलावा आबिद रजा और उनकी पत्नी फातिमा रजा ने धर्मेंद्र यादव से जान का खतरा बताते हुए कहा था कि धर्मेंद्र यादव के लोग उनकी जान ले सकते हैं. इसके लिए वे उनके घर के आसपास नजर भी रख रहे हैं.

गौरतलब रहें कि सांसद धर्मेंद्र यादव के करीबी रिश्तेदार बदायूं में 133 करोड़ की लागत से अंडरग्राउंड केबलिंग का करा रहे हैं. इसमें बदांयू शहर क्षेत्र में 80 करोड़ का काम हो रहा है. जिसे लेकर दोनों के बीच विवाद हैं.

और पढ़े -   उत्तर प्रदेश में शराबबंदी को लागू करना जनहित में नहीं: योगी सरकार

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE