वक्फ बोर्ड की जमीन को लेकर मुजफ्फरपुर का चंदवारा दंगल बन गया.  चंदवारा स्थित मौलाना सैयद काजिम शबीब को गिरफ्तार करने के लिए पहुंची पुलिस पर मौलाना समर्थकों की पत्थरबाजी के बाद पुलिस ने जमकर लाठियां भांजी और आंसू गैस के गोले छोड़े.

दरअसल, ये विवाद नगर थाना क्षेत्र के कमरा मोहल्ला में मो. तकी खान इमामबाड़े की जमीन को लेकर है. जो  2010 से ही चल रहा है. मौलाना का दावा है कि ये जमीन उनकी है, जबकि इमामबाड़ा कमिटी का कहना है कि यह जमीन हमारी है और मौलाना ने अतिक्रमण कर दबा रखा है. प्रशासन सुलह-समझोते के लिए दोनों पक्षों में अब तक 5 बार बैठक करा चूका है. बावजूद इसके कोई समझोता नहीं हुआ.

और पढ़े -   अंधविश्वास से होगा इंसेफेलाइटिस का इलाज, अस्पताल के पलंगों पर बिछाई गई भगवा चादर

इस जमीन को लेकर कई बार हिंसक घटनाएँ भी हो चुकी है. दोनों पक्षों की और से एक-दुसरे पर 26 FIR दर्ज है. विवाद को बढता देख प्रशासन ने दोनों पक्षों से जमीन से दूर रहने का आदेश दिया था. बावजूद इसके मौलाना समर्थकों ने इसे खाली नहीं किया साथ ही अवैध तालाबंदी कर विवाद उत्पन्न कर रहे थे. हालांकि समर्थकों का कहना है कि वे वक्फ बोर्ड की जमीन को बचाने के लिए लड़ाई लड़ रहे थे.

और पढ़े -   बिहार: गौरक्षकों ने पहले मुस्लिमों की पिटाई, फिर भी पीड़ितों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

जिले के SSP विवेक कुमार ने बताया कि पुराने मामले में मौलाना की गिरफ्तारी के लिए पुलिस पहुंची थी. तो उनके समर्थक उग्र हो गए और पुलिस के साथ मारपीट करने लगे.  स्थिति को नियंत्रण करने के लिए पुलिस ने कई राउंड फायरिंग की तो आंसू गैस के गोले भी चलाने पड़े. पुलिस ने मौलाना काजिम शबीब को गिरफ्तार करते हुए 35 अन्य लोगों समेत करीब 200 अज्ञात पर नगर थाने में एफआईआर दर्ज की है.

और पढ़े -   मुस्लिम प्रिंसिपल को झंडा फहराने से रोकने के मामले में 16 गिरफ्तार

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE