राजधानी भोपाल में पुलिस ने दो पत्रकारों के साथ मारपीट की और उन्हें सिमी का आतंकी बता कर रात भात जेल में रखा. इस मामलें में तीन पुलिसकर्मियों को निलंबित किया गया हैं.

प्राप्त जानकारी के अनुसार दैनिक भास्कर के पत्रकार विजय प्रभात शुक्ला और कृष्णमोहन तिवारी ड्यूटी के बाद मंगलवार रात करीब डेढ़ बजे अलग-अलग बाइक से घर लौट रहे थे. अवधपुरी तिराहे पर रुककर कृष्णमोहन, विजय का सामान लौटा रहे थे. तभी वहां पुलिस की पीसीआर वैन में आए दांगी ने दोनों से नाम पता पूछा. नाम पता तथा स्वयं को पत्रकार और रात में ड्यूटी से वापस घर लौटने की बात बताने के बावजूद पुलिसकर्मियों ने कथित तौर पर नशे में हालत में दोनों पत्रकारों के साथ मारपीट की.

शुक्ला के अनुसार अपना स्थाई पता फैजाबाद बताने के बाद पुलिसकर्मी हमें सिमी का आतंकी करार देने लगे और इसके बाद वैन में बैठाकर पुलिस थाने लाया गया और वहां भी गालीगलौच और मारपीट की गई. दांगी नशे की हालत में थे तथा अपना परिचय पत्रकार के रूप में देने के बाद भी हमारी कोई बात सुनने को तैयार नहीं थे. उन्होंने बताया, दांगी और दूसरे पुलिसकर्मी मारपीट के बाद हमें थाने में छोड़कर चले गए और सुबह लगभग साढ़े चार बजे आकर हमें थाने से रिहा किया गया.

इस मामलें में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ रमन सिंह ने बताया, “पत्रकारों के साथ मारपीट करने के मामले में सहायक उप निरीक्षक आर एस दांगी, प्रधान आरक्षक सुभाष त्यागी और प्रधान आरक्षक संतोष यादव को निलंबित किया गया है। इसके साथ ही अवधपुरी पुलिस थाने की प्रभारी निरीक्षक शिखा वैश को लाइन अटैच किया गया है”


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें