लालू यादव के बाद उनकी बेटी मीसा भारती की भी मुश्किलें बढ़ गई हैं. प्रवर्तन निदेशायल ने आज मीसा भारती के सीए राजेश अग्रवाल को गिरफ्तार किया. इस मामले में शेल कंपनियों के कारोबारी बीरेंद्र जैन और सुरेंद्र कुमार जैन की पहले ही गिरफ्तारी हो चुकी है.

ये गिरफ्तारी आठ हजार करोड़ के घोटाले के मामले में हुई है. इस मामले में शेल कंपनियों के कारोबारी बीरेंद्र जैन और सुरेंद्र कुमार जैन की पहले ही गिरफ्तारी किया जा चूका है. उन पर कई हाई-प्रोफाइल लोगों की ब्लैकमनी को व्हाइट करने का आरोप है.

और पढ़े -   गोरखपुर: अभी जारी है बच्चों की मौत का सिलसिला, दो दिनों में 35 और बच्चों की मौत

इससे पहले ईडी ने लालू यादव के 22 ठिकानों पर छापेमारी की थी. बताया जा रहा है कि ये छापेमारी 1000 करोड़ के लैंड डील से जुड़े हैं. ईडी का आरोप है कि जैन ब्रदर्स ने ही मीसा को मनी लॉन्ड्रिंग के जरिए दिल्ली के बिजवासन में करीब डेढ़ करोड़ का फार्म हाउस दिलाया. दोनों अभी जेल में हैं. ईडी ने दोनों के खिलाफ पिछले सप्ताह आरोपपत्र दाखिल किया था.

और पढ़े -   दीजिए मुबारकबाद: अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के 11 छात्र बनेंगे जज

ईडी के मुताबिक, जैन ब्रदर्स पर नेताओं और उनके परिवार वालों की ब्लैकमनी को शेल कंपनियों के जरिए लीगल करने के एवज में कमीशन लेने का आरोप है. ईडी ने इस फार्म हाउस को भी जब्त कर लिया है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE