अरेस्ट हुआ मंत्री का बेटा और ड्राइवरहैदराबाद आंध्र प्रदेश के सामाजिक कल्याण मंत्री रावेला किशोर बाबू के बेटे सुशील और उनके ड्राइवर को एक महिला से छेड़खानी के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया है। पीड़िता का कहना है कि उन्होंने उसे अपने कार में खींचने की कोशिश की लेकिन वह किसी तरह बचकर भागने में कामयाब रही। पीड़िता ने कहा मुझे सिर्फ इंसाफ चाहिए, अगर किसी ने गलत किया है तो उसे इसकी सजा मिलनी चाहिए। महिला का पति और वहां से गुजरने वाले कुछ लोग वाकए के चश्मदीद हैं।

 

पीड़िता

महिला ने अपनी शिकायत में बताया है कि बंजारा हिल्स इलाके में एक कार ने उसका पीछा किया और किसी ने उसे कार के अंदर आने के लिए कहा। पीड़िता के मुताबिक जब वह वहां से भागने लगी तो ड्राइवर की सीट पर बैठे शख्स ने उसे कार में खींचने की कोशिश की। महिला शख्स का चेहरा नहीं देख पाई, सिर्फ उसके हाथ पर बना एक टैटू ही देख सकी। महिला और उसके पति को मालूम नहीं था कि कार में कौन था लेकिन बाद में पता चला कि वह मंत्री का बेटा था। एक स्थानीय शख्स ने बताया,’दोनों आदमी नशे में चूर थे। वे ठीक से चल भी नहीं पा रहे थे। उन्हें पुलिस स्टेशन ले जाया गया लेकिन शिकायत सिर्फ ड्राइवर अप्पा के खिलाफ दर्ज हई। मंत्री की पत्नी अपने बेटे को दूसरे कार में लेकर चली गईं।’

सुशील ने अपने फेसबुक पोस्ट में दावा किया है कि उसने एक पिल्ले को बचाने के लिए रास्ते में कार रोकी थी और महिला उसे गालियां देने लगी। सुशील के मुताबिक उसने मौके का दुरुपयोग किया और भीड़ को गुमराह किया। वहीं मंत्री रावेला ने कहा कि वे मामले में दखल नहीं देंगे। उन्होंने कहा,’मेरा परिवार संविधान और कानून की इज्जत करता है। पुलिस जांच से ही पता चला कि ऐसा अपराध हुआ या नहीं।’ (NBT)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें