देश में गौरक्षा और गौ-सेवा के नाम पर लोगों की जान ली जा रही है, बावजूद इसके देश की किसी भी सडक पर भूखी-प्यासी बीमार गाय मिलना आम बात है.

वहीँ भोपाल में असदुल्ला खान गौरी नाम का एक शख्स है जो पिछले 20 सालों से गायों की सेवा कर रहा है. बिना कोई राजनीति किये वह दिल से और मेहनत के साथ गायों की सेवा करता है. गली मुहल्ले से रोटी एकत्रित कर गायों को खिलाता है.

और पढ़े -   अंधविश्वास से होगा इंसेफेलाइटिस का इलाज, अस्पताल के पलंगों पर बिछाई गई भगवा चादर

असदुल्ला खान के पास हमेशा कुछ दवाएं, मरहम-पट्टी होती है. उन्हें जब भी कई बीमार और घायल गाय मिल जाती है वे इलाज शूरु कर देते है, गंभीर होने पर खुद ही अस्पताल लेकर भी जाते है.

नका कहना है, ‘मैं सालों से गाय की सेवा करता हूं, ज्यादा पढ़ा लिखा नहीं हूं, मुझे नहीं पता था कि ये गोरक्षक क्या करते हैं, लोगों से सुना.

और पढ़े -   मराठवाड़ा में रोज दो से तीन किसान कर रहे आत्महत्या: सरकारी रिपोर्ट

बरखेड़ी के ही धर्मेन्द्र यादव ने कहा हम इन्हें सालों से देख रहे हैं, इनसे लोगों को सीखना चाहिये कि गौ माता की सेवा कैसे की जाती है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE