garba

गुजरात के गांधीनगर में गरबा में आने वाले गैर-हिंदुओं पर बजरंग दल गो-मूत्र छिड़क रहा. इस शर्मनाक हरकत के पीछे बजरंग दल का मकसद गैर-हिंदुओं को गरबा देखने आने से रोकना हैं.

मंगलवार को गांधीनगर के सेक्टर 11 में एक निजी गरबा आयोजन स्थल पर बजरंग दल के करीब 25 कार्यकर्ताओं ने जबरदस्ती लोगों पर गो-मूत्र छिड़कना शुरू कर दिया. जिसके बाद लोगों ने विरोध किया. विरोध बढ़ने पर पुलिस को हस्तक्षेप करना पड़ा.

और पढ़े -   मुंबई कमिश्नर पडसलगीकर ने पुलिस फ़ोर्स में मुसलमानों की कमी पर व्यक्त की चिंता

इस दौरान देवदत्त सिंह रावल नाम के एक 35 साल के आईटी प्रफेशनल ने पुलिस बुला लिया. उन्होंने अपने माथे पर तिलक भी नहीं लगाने दिया. रावल ने कहा कि उसे यह साबित करने की जरूरत नहीं है कि वह हिंदू है. उन्होंने कहा कि यह हास्यास्पद है और ज्यादातर लोग इसे पसंद नहीं कर रहे, लेकिन वह डर की वजह से विरोध नहीं कर रहे.

और पढ़े -   अब बरेली के 200 से ज्यादा दलितों परिवारों ने हिंदू धर्म त्याग कर अपनाया बौद्ध धर्म

इस बारें में गांधीनगर शहर के बजरंग दल के अध्यक्ष शक्तिसिंह जाला ने कहा, ‘अगर कोई अपने ऊपर गोमूत्र नहीं छिड़कने देता है तो जरूरत पड़ने पर हम उसे बाहर भी फेंक देते हैं. हम जो काम कर रहे हैं, वह कानूनी है. हमें पुलिस शिकायत का डर नहीं है. हमनें पांच से आठ टीमें बनाई हुई हैं, जो कि शहर में अलग-अलग जगह जाती हैं.’

और पढ़े -   मोदी सरकार को किसी के खानपान पर किसी भी तरह की रोक लगाने का हक नहीं: पुडुचेरी सीएम

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE