हाल ही हुए विधानसभा चुनाव में मिली करारी हार का ठीकरा एक बार फिर से मुस्लिमों पर फोड़ते हुए मायावती ने मुस्लिमों को बसपा से निकालना शुरू कर दिया है.

हाल में बसपा के कद्दावर मुस्लिम नेता नसीमुद्दीन सिद्दीकी को उनके बेटे सहित पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाया गया था. अब पूर्व विधायक फरहत हुसैन उर्फ हाजी शब्बन को भी पार्टी से निकाल दिया गया है. फरहत हुसैन को निकाले जाने का पहले से ही अंदेशा था.

और पढ़े -   बच्चों की मौतों पर योगी सरकार से हाईकोर्ट ने मांगा जवाब

बसपा के जिलाध्यक्ष डॉ. होरी सिंह ने मंडी धनौरा में पत्रकार वार्ता का आयोजन करते हुए बसपा के पूर्व विधायक एवं मुस्लिम भाईचारा कमेटी मंडल प्रभारी फरहत हुसैन उर्फ हाजी शब्बन को पार्टी से निष्कासित कर दिया.

उन्होंने कहा हाजी शब्बन के पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल रहने की रिपोर्ट पार्टी हाईकमान को विधानसभा चुनावों के बाद ही भेजी गई थी. हाईकमान के निर्देश के बाद उन्हें पार्टी से निकाला जा रहा है.

और पढ़े -   गौशाला में गौ-माताओं को मार कर खालों की तस्करी करता था बीजेपी का गौभक्त नेता

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE