पिछले दिनों बहुजन समाज पार्टी से बीते दिनों निकाले गए नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने अपनी नई पार्टी बना कर बसपा प्रमुख मायावती को झटका दिया है. उन्होंने अपनी पार्टी का नाम राष्ट्रीय बहुजन मोर्चा रखा है.

यूपी चुनाव के परिणाम आने के बाद मायावती ने पहले उन्हें यूपी प्रभारी पद से हटाकर मध्यप्रदेश भेजा और बाद में अचानक उन्हें उनके बेटे के साथ पार्टी से बाहर निकाल दिया. नसीमुद्दीन सिद्दीकी को बसपा का एक बड़ा मुस्लिम चेहरा माना जाता था.

और पढ़े -   भगवा चोले में सामने आया हवस का पुजारी, स्वामी कौशलेंद्र प्रपन्नाचारी पर यौन शोषण का मामला दर्ज

आज जारी बयान में उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय बहुजन मोर्चा समाज को एक नया राजनीतिक विकल्प देने का काम करेगा. यह मोर्चा समाज में सदभाव, भाईचारा तथा सभी वर्गो को राजनीतिक, सामाजिक भागीदारी सुनिश्चित करेंगा. उन्होंने कहा कि बहुजन समाज पार्टी के बहुत से नेता कार्यकर्ता जल्द ही मोर्चा से जुड़ेंगे और संगठन को विस्तार देने का काम जल्द शुरू किया जायेगा.

और पढ़े -   पूर्व कांस्टेबल अब्दुल क़दीर का हुआ निधन, दंगाईयों का साथ देने वाले वरिष्ठ अधिकारी की ली थी जान

गौरतलब रहे कि बसपा से निकाले जाने पर मायावाती ने कहा था कि उन्होंने पार्टी के सदस्यता अभियान में जमा हुआ करीब 50 फीसदी धन पार्टी कोष में जमा नहीं किया, इसलिए उन्हें पार्टी से निकाला गया.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE